पीयू में सख्त निगरानी में हुई असिस्टेंट प्रोफेसर की परीक्षा


जौनपुर।  वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय परिसर में संचालित विभिन्न संकाय के विज्ञापित सहायक आचार्य के पदों पर चयन हेतु लिखित परीक्षा 25 अगस्त 2022 गुरुवार को विश्वविद्यालय परिसर स्थित नवीन केंद्रीय मूल्यांकन भवन में तीन पालियों में कराई गई।

विश्वविद्यालय की कुलपति प्रोफ़ेसर निर्मला एस. मौर्य का सख्त निर्देश है कि विश्वविद्यालय की हर परीक्षा सुचिता के साथ हो। उन्होंने परीक्षा से संबंधित सभी केंद्राध्यक्ष को निर्देश दिया है की परीक्षा नकलविहीन हो और विद्यार्थियों को किसी भी तरह की असुविधा का सामना न करना पड़े। सहायक प्रोफ़ेसर की लिखित परीक्षा के अभ्यर्थियों को किसी भी प्रकार की कोई दिक्कत ना हो इसके लिए एक दिन पूर्व ही कुलपति, कुलसचिव और सहायक कुलसचिव की टीम ने केंद्रीय मूल्यांकन भवन का निरीक्षण किया।
 केंद्राध्यक्ष प्रोफेसर बीबी तिवारी ने कहा है कि पहली पाली 11:00 से 12:00 बजे एमबीए कंप्यूटर साइंस मैथमेटिक्स रिन्यूएबल एनर्जी द्वितीय पाली 1:00 से 2:00 एमबीई बायोटेक्नोलॉजी तृतीय पाली में 3:00 से 4:00 बजे एमएचआरडी की परीक्षा कराई गई। प्रवेश परीक्षा में कुल 462 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था।  परीक्षा की सुचिता के लिए कड़े इंतजाम किए गए हैं। इसके लिए दो सहायक केंद्राध्यक्ष प्रोफेसर रजनीश भास्कर और डॉ अमरेंद्र सिंह बनाए गए हैं। इस बार कक्ष निरीक्षकों को भी  परिचय पत्र जारी किया गया है। पूरी परीक्षा सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में हुई।  इसके अतिरिक्त इसकी वीडियो रिकॉर्डिंग भी कराई गई ताकि किसी भी प्रकार की गड़बड़ी की शिकायत पर दो-दो साक्ष्य प्रस्तुत किया जा सके।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

कैंसर ने ले ली अपना दल के इस विधायक की जान, पूरी विधान सभा शोक में डूबी

स्वामी प्रसाद मौर्य के इस ट्वीट से गरमा गया है सियासी गलियारा

जौनपुर के एसपी सहित यूपी के 11 आईपीएस अधिकारियों का तबादला, अजय पाल शर्मा बने एसपी जौनपुर देखे सूची