आग के एक चिंगारी बनी मासूम की काल तो सात घरो को किया राख जानें घटना क्या रही


चंदौली में चकिया कोतवाली क्षेत्र के दिरेहूं ग्राम पंचायत के बैरा गांव की बनवासी बस्ती में सोमवार की रात अलाव की चिंगारी से झोपड़ी में आग लग गई। एक-एक कर सात झोपड़ियां जलने लगीं। जब तक ग्रामीण आग बुझाते तब तक झोपड़ी में सो रहे संतोष बनवासी के एक वर्षीय इकलौते पुत्र मिंटू की मौत हो गई। वहीं पांच बकरियां भी जलकर मर गईं। गांव पहाड़ी क्षेत्र में हाने से प्रधान द्वारा भेजे व्हाट्सएप मैसेज पढ़कर प्रशासनिक अधिकारी वहां पहुंचे। 
इकलौते पुत्र की मौत से संतोष बनवासी और उनका परिवार का रो-रोकर बुरा हाल था। एएसपी सुखराम भारती ने उन्हें ढाढस बंधाया और संतोष को आवास, पट्टे की जमीन और प्रति बकरी तीन हजार रुपये का मुआवजा दिलाने का आश्वासन दिया। बकरियों को भी पोस्टमार्टम के लिए पशु चिकित्सालय भेज दिया गया। 

Comments

Popular posts from this blog

बाहुबली नेता एवं पूर्व विधायक के परिवार जनों पर फिर मारपीट और छेड़खानी का मुकदमा हुआ दर्ज, पुलिस जांच पड़ताल में जुटी

सपा ने जारी किया सात लोकसभा के लिए प्रत्याशियों की सूची,जौनपुर से मौर्य समाज पर दांव,बाबू सिंह कुशवाहा प्रत्याशी घोषित देखे सूची

भाजपा के प्रत्यशियो की दसवीं सूची जारी, मछलीशहर से भी प्रत्याशी घोषित देखे सूची