युवक की हत्या के आरोप में कोतवाल सहित पांच पुलिस कर्मियों के खिलाफ मुकदमा हुआ दर्ज


सुल्तानपुर जिले की कादीपुर कोतवाली के इंस्पेक्टर समेत पांच पुलिसकर्मियों पर युवक की हत्या का आरोप लगा है। देर रात चार घंटे तक कोतवाली क्षेत्र के पटेल चौक पर परिजनों ने शव रखकर प्रदर्शन किया। पुलिस अधीक्षक के आदेश पर दोषी पुलिसकर्मियों पर मुकदमा दर्ज किया गया। इसके बाद  परिजन धरने से उठे। इस बीच कई थानों की फोर्स मौके पर बुलाई गई थी।
आजमगढ़ जिले के मेहनगर थाना क्षेत्र के गोपालपुर निवासी अंकुश सिंह (20) पुत्र देवेंद्र सिंह कादीपुर कोतवाली के अटरा राईबीगो में अपने जीजा हरिशंकर सिंह के घर पर रहता था। सोमवार रात वो ट्रैक्टर ट्राली पर लकड़ी लादकर ले जा रहा था। आरोप है कि दरोगा अखिलेश सिंह, सिपाही जितेंद्र, दानिश व सुरेंद्र ने सोनालिका ट्रैक्टर एजेंसी के पास उसे दौड़ाकर पकड़ लिया। ये लोग युवक को ट्रैक्टर कोतवाली ले जाने का दवाब बनाने लगे। युवक ने जाने से इनकार किया तो उसे साइड में ले जाकर दस हजार की मांग की।
युवक ने पैसे देने से मना किया तो पुलिस कर्मियों ने कहा कि कोतवाल का दबाव है ट्रैक्टर कोतवाली ले चलना पड़ेगा। इसके बाद ट्रैक्टर सिपाही दानिश ने चलाना शुरू किया और युवक अंकुश व लेबरों को बोनट पर बैठा दिया। आरोप है कि आगे गड्ढे वाली रोड पर सिपाही ने अंकुश को धक्का दिया। वो बोनट से नीचे गिर गया जिससे वो पहिए के नीचे दब गया।
सूचना पर परिजन मौके पर पहुंचे और अंकुश को सीएचसी लेकर पहुंचे जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। इसके बाद परिजनों ने यहां हंगामा काटना शुरू कर दिया। परिजन शव को कोतवाली क्षेत्र के पटेल चौक पर लेकर पहुंचे और प्रदर्शन शुरू कर दिया। सूचना मिलने पर सीओ कादीपुर शिवम मिश्रा दलबल के साथ मौके पर पहुंचे और परिजनों को समझाया लेकिन परिजन आरोपी पुलिसकर्मियों के विरुद्ध हत्या का मुकदमा दर्ज करने की बात पर अड़ गए तब करौंदीकला, चांदा, लंभुआ, मोतिगरपुर, दोस्तपुर, अखंडनगर, जयसिंहपुर थाने की फोर्स बुलाई गई।
इसके बाद रात एक बजे के बाद एसपी सोमेन बर्मा, अपर पुलिस अधीक्षक विपुल श्रीवास्तव खुद मौके पर पहुंचे। उन्होंने परिजनों को सुना और अंत में उन्हें आश्वस्त किया कि दोषी पुलिसकर्मियों के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने मुकदमा कायम करने के लिये तहरीर मांगी जिस पर कादीपुर कोतवाली में ग़ैर कोतवाल देवेंद्र सिंह, दरोगा अखिलेश सिंह, सिपाही दानिश, सिपाही जितेंद्र व एक अज्ञात के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मेदांता में इलाज करा रहे इस आईएएस अधिकारी का हुआ निधन

जौनपुर में फिर तड़तड़ायी गोलियां एक युवक गम्भीर रूप से घायल बदमाश फरार, पुलिस अंधेरे में चला रही छानबीन की तीर

थाना चन्दवक की वसूली लिस्ट वायरल होने पर एक बार फिर सुर्खियों में पुलिस जांच शुरू