राजस्व विभाग की समीक्षा बैठक में धारा 24 एवं 34 के पुराने वादो पर मंत्री का रहा जोर दिया यह निर्देश

जौनपुर। विकास भवन के सभागार में राजस्व विभाग की समीक्षा करते हुए प्रदेश सरकार के राज्यमंत्री राजस्व विभाग अनूप प्रधान ने धारा 24 और धारा 34 में 05 वर्ष से अधिक पुराने वादों के संबंध में जानकारी प्राप्त करते हुए निर्देशित किया कि पुराने वादों का निस्तारण जल्द से जल्द किया जाए। उन्होंने जनपद में प्राप्त आय, जाति, निवास से संबंधित आवेदनों की जानकारी प्राप्त की और ससमय निस्तारित करने का निर्देश भी समस्त उप जिलाधिकारियों को दिया। 
मंत्री द्वारा सरकारी जमीन पर कब्जा की जानकारी प्राप्त की और समस्त उपजिलाधिकारी को निर्देशित किया कि सरकारी जमीन से अवैध कब्जा हटवाया जाए। 
 साथ ही अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व को निर्देशित किया कि वरासत का अभियान चलाकर आवेदनों का निस्तारण कराया जाए। राजस्व के 05 बड़े बकायेदारों की जानकारी प्राप्त की और बड़े बकायेदारो को नोटिस जारी करते हुए वसूली की कार्रवाई करने को कहा।
चकबंदी की प्रक्रिया की जानकारी प्राप्त करते हुए निर्देशित किया कि चकबंदी प्रक्रिया में जो समस्या आ रही है उसका निस्तारण कराए। अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व द्वारा अवगत कराया गया कि जनपद में शासन की मंशा के अनुरुप कंबल वितरण का कार्य किया जा रहा हैं, मंत्री ने कहा कि गरीबों को कंबल अवश्य मिलना चाहिए। 
उक्त बैठक में देवी आपदा से हुई मृत्यु में उनके वारिसों को स्वीकृति चेक पत्र प्रदान किया गया जिसमें प्रदीप कुमार निवासी ग्राम चंदवक तहसील केराकत जौनपुर, हिमांशू ग्राम घघरिया, परगना घिसुआ तहसील मछलीशहर, मोनू ग्राम नेवादा बारीगांव तहसील मड़ियाहूं, पंकज कुमार ग्राम पुरुषोत्तमपुर उर्फ पांडेपुर तहसील सदर, प्रथमेश ग्राम दुर्गापुर, परगना करियातदोस्त तहसील सदर को चार-चार लाख का चेक पत्र प्रदान किया गया और 05 लाभार्थियों को अपने हाथों से कंबल वितरण किया गया। 
इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वि0रा0 राम अक्षयबर चौहान, अपर जिलाधिकारी भू0रा0 गणेश प्रसाद, अतिरिक्त उपजिलाधिकारी, समस्त उपजिलाधिकारी, जिला सूचना अधिकारी, तहसीलदार, डीडीसी चकबन्दी सहित सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Comments

Popular posts from this blog

जिले के पांच प्राथमिक विद्यालयो के औचक निरीक्षण में तीन विद्यालय के मास्टरो को मिली कारण बताओ नोटिस, रोका गया वेतन

स्कूल के आफिस में प्रिसिंपल और टीचर की अश्लील हरकते हुई वायरल,पुलिस क्यों है बेखबर?

परिषदीय विद्यालयो में डिजिटल उपस्थित का शिक्षको के विरोध के बीच अब सीएम योगी का दखल,जानिए जिम्मेदारो को क्या मिला आदेश