जानिए आखिर जौनपुर के डीआईओएस जानें क्यों किए गए निलम्बित, इन क्या है आरोप


जौनपुर। उच्च न्यायालय लखनऊ की खण्ड पीठ  के आदेश का अनुपालन न करने के आरोप में जनपद जौनपुर के जिला विद्यालय निरीक्षक सूर्यभान को शासन ने निलम्बित करते हुए तत्काल माध्यमिक शिक्षा निदेशालय प्रयागराज से सम्बद्ध कर दिया गया है।
इस कार्यवाई के पीछे जो मामला सामने आया है उसके अनुसार नगर पालिका इन्टर कालेज से अवकाश प्राप्त शिक्षक राम प्रकाश  के जीपीएफ और अन्य सेवा निवृत्त देयों को लेकर उच्च न्यायालय में दाखिल याचिका पर कोर्ट ने आदेश दिया कि सभी देयो के भुगतान जल्द कराए जाए। न्यायालय के आदेश के क्रम में विशेष सचिव आलोक कुमार ने 06 नवंबर को जिला विद्यालय निरीक्षक सूर्यभान को पत्र जारी कर राम प्रकाश की पत्नी आशा देवी की याचिका पर न्यायालय के आदेश का पालन करने के लिए तीन पत्र जारी करने का हवाला देते हुए कहा कि जिला विद्यालय निरीक्षक ने कोई रिपोर्ट नहीं दिया ।
इसके बाद आशा देवी ने सचिव माध्यमिक शिक्षा दीपक कुमार को पार्टी बनाते हुए आवमानना याचिका दाखिल कर दिया। इसकी भी सूचना डीआईओएस ने दिया जाना उचित नहीं समझा। इन्ही सब लापरवाहीयों को लेकर सचिव माध्यमिक शिक्षा के आदेश से निलम्बित करते हुए जिला विद्यालय निरीक्षक सूर्यभान को माध्यमिक शिक्षा निदेशालय से सम्बद्ध करवा दिया गया है। डीआईओएस के खिलाफ हुई इस कार्यवाई से विभाग में हड़कंप मचा हुआ है।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

एंटी करप्शन टीम के हत्थे चढ़ा चपरासी ढाई लाख रुपए घूस ले रहा था चपरासी सहित एसीओ के खिलाफ मुकदमा दर्ज

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद