बचपन के दो साथियों की जली एक साथ चितायें,जानें कैसे हुई दोनो की मौत


जौनपुर। पिलकिछा शमशान घाट पर एक साथ दो दोस्तों का अंतिम संस्कार देख लोगों की आखें नम हो गई। पिलकिछा ग्रामसभा स्थित खोभारिया गांव के बचपन के दो दोस्तों की बृहस्पतिवार को घर से दिल्ली जाते समय इटावा में कार और डंपर की टक्कर में दर्दनाक मौत हो गई थी। घर से एक साथ दो शव निकलते ही परिजन चीत्कार उठे। दोनों को एक साथ मुखाग्नि देख लोग अपने अश्रु नहीं रोक सके।
गांव निवासी शशिकांत यादव अपने चचेरे भाई व बचपन के मित्र रमाशंकर यादव व पत्नी अंजू पुत्र अंश और ओम तथा सिंगरामऊ थाना क्षेत्र के जमऊपट्टी गांव निवासी रिश्तेदार बृजेश यादव के साथ बृहस्पतिवार की भोर में निजी कार से दिल्ली जा रहे थे। इटावा में डंपर की चपेट में आने से दोनों दोस्तों की मौके पर ही मौत हो गई। कार पर सवार अन्य लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे। उनकी हालत अब खतरे से बाहर बताई जा रही है।
दुर्घटना में दोनों की एक साथ मौत हो जाने की खबर आते ही परिवारजनों में हाहाकार मच गया। दोनों बहुत ही मिलनसार और सीधे-साधे प्रवृत्ति के होने के कारण पूरे गांव के लोग उन्हें सम्मान देते थे। घटना की जानकारी होते ही गांव का माहौल गमगीन हो गया।

Comments

Popular posts from this blog

जौनपुर और मछलीशहर (सु) लोकसभा में जानें विधान सभा वारा मतदान का क्या रहा आंकड़ा,देखे चार्ट

मतगणना स्थल पर ईवीएम मशीन को लेकर हंगामा करने वाले दो सपाई सहित 50 के खिलाफ एफआईआर

आयोग और जिला प्रशासन के मत प्रतिशत आंकड़े में फिर मिला अन्तर