अमृत महोत्सव के तहत 75 करोड़ बार होगा सूर्य-नमस्कार, तैयारियां हुई तेज

जौनपुर। पचहत्तर करोड़ बार सूर्य-नमस्कार को करानें के लिए प्रशिक्षकों द्वारा जिले में अपनी तैयारियां तेज कर दी गई हैं। आजादी के पचहत्तरवें वर्ष के उपलक्ष्य में मनाये जा रहे अमृत महोत्सव के तहत योग गुरु बाबा रामदेव और भारत सरकार के साथ राज्य सरकारों के संयुक्त तत्वावधान में होगा। जिससे देश और दुनियां में अपनी प्राचीनतम आध्यात्मिक आसनों की पद्धति सूर्य-नमस्कार को जन जन तक पहुंचाने के उद्देश्य पूरी तरह से शत-प्रतिशत सफल हो जाए।

इस संबंध में पतंजलि योग समिति के प्रान्तीय सह प्रभारी व सूर्य-नमस्कार के समन्वयक अचल हरीमूर्ति ने सोमवार को अपने कैंप कार्यालय में वार्ता के दौरान बताया कि इस अभियान के तहत 21 दिनों तक प्रति व्यक्ति को न्यूनतम 13 बार सूर्य-नमस्कार को करके इस लक्ष्य को हासिल करनें की योजना बनाई गई है। इसके लिए जनपद के सभी सरकारी और गैरसरकारी शैक्षणिक और गैर शैक्षणिक संस्थाओं से सम्पर्क करके उन्हें आमंत्रित किया जा रहा है। सोशल मीडिया के राज्य प्रभारी और टेक्निकल एडवाइजर कुलदीप योगी के द्वारा बताया गया है प्रत्येक व्यक्ति और संस्थान  www.75surynamaskar.com पर अपना रजिस्ट्रेशन करके इस महाअभियान में प्रतिभाग करके इसका प्रमाणपत्र प्राप्त कर सकते हैं।
श्री हरीमूर्ति के द्वारा बताया गया है की इस कार्यक्रम का शुभारंभ संकल्प दिवस के रूप में सर्वोदय इण्टर कालेज खुदौली खेतासराय में हो रहा है।जिसमें संस्था के प्रधानाचार्य अनिल कुमार उपाध्याय के नेतृत्व में दो हजार से अधिक छात्रों के द्वारा सूर्य-नमस्कार को करके इस अभियान का शुभारंभ होगा । इसके अतिरिक्त राष्ट्रीय सेवा योजना के समन्वयक डॉ राकेश यादव के नेतृत्व में युवा दिवस के दिन वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय में स्वयं सेवकों के द्वारा वृहद पैमाने पर सूर्य-नमस्कार को करके इस अभियान में एनएसएस की भूमिकाओं को सुनिश्चित किया जायेगा।

इस अभियान के पतंजलि योग समिति के जिला प्रभारी शम्भुनाथ, वरिष्ठ पत्रकार इन्द्रजीत सिंह मौर्य, शशिभूषण, डा हेमंत, डा धर्मशीला गुप्ता, हरीनाथ, संतोष, ज्ञान प्रकाश, नन्दलाल, सिकन्दर, अखिलेश, सुरेन्द्र पटेल,डा ध्रुवराज, जगदीश, राजकुमार, सभाराज,मनोज, डा चन्द्रसेन,राजेश, विकास योगी, रविन्द्र, विरेन्द्र,  शिवकुमार, स्वदेश, सुरेशचंद्र, राजीव सिन्हा,नवीन द्विवेदी, हंसराज चौधरी सहित अनेकों प्रशिक्षकों के द्वारा प्रशिक्षण दिया जा रहा है।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

गुरूजी को अपनी छात्रा से लगा प्रेम रोग तो अब पहुंच गए सलाखों के पीछे,थाने में हुआ एफआइआर दर्ज

आखिर पत्नी ने पति के खिलाफ अप्राकृतिक दुष्कर्म का आरोप क्यों लगायी,जानें कारण

शादी से पहले दुल्हन प्रेमी संग हुई फरार मंडप में पसरा सन्नाटा, 27 नवंबर को आनी थी बारात