समाजवादी राजनीति के सजग प्रहरी थे सीताराम - विवेक रंजन

जौनपुर। सपा के संस्थापक सदस्य व पूर्व राष्ट्रीय कार्यकारी के सदस्य सीताराम की आठवीं पुण्यतिथि मनाई गई। कार्यक्रम में  उनके जीवनी पर प्रकाश डाला गया। इस दौरान वक्ताओं ने उनके द्वारा बताए सिद्धांतों पर चलने का संकल्प लिया। 
सोमवार को रमदेइया गांव स्थित पैतृक आवास पर आयोजित संगोष्ठी को सम्बोधित करते हुए सपा के प्रदेश सचिव विवेक रंजन यादव ने कहा कि जनपक्षधरता की राजनीति के सजग प्रहरी सीताराम सृजन में विश्वास रखते थे। देश व समाज को तोड़ने वाली समरसता और भाईचारे को नष्ट करने वाली ताकतें आज और मजबूती के साथ खड़ी है, जिनके खिलाफ सीताराम ने आजीवन संघर्ष किया। 
सीताराम एक सच्चे समाजवादी विचारधारा के व्यक्ति थे। युवा वर्ग को उनके आदर्शों पर चलने का संकल्प लेना होगा। वे सदैव गरीबों, शोषितों और दलितों की लड़ाई लड़ते रहे। उन्होंने कहा समाजवादी पार्टी की स्थापना से लेकर जीवन भर इसके विचारों को आगे बढ़ाने तथा पार्टी को मजबूत करने का काम किया। हमें उनके आदर्शों से सीख लेनी चाहिए।
पूर्व प्रशानिक अफसर लालजी यादव  ने कहा कि स्व.सीताराम चौधरी चरण सिंह, लोहिया के विचारधारा से प्रभावित होकर समाजवाद की अलख जगाने वालों में से एक थे।  राजनीतिक गलियारे में उनकी जितनी प्रशंसा की जाए कम है। 
नन्हकू यादव ने नौजवानों, मजदूरों, किसानों, समाज के सभी तबकों को समाजवादी आंदोलन को मजबूत बनाने में सहयोग की अपील की।
अध्यक्षता पूर्व जिला पंचायत  राज बहादुर यादव व संचालन प्रोफेसर लाल रत्नाकर यादव ने किया।

स्मृति शेष संगोष्ठी को अजय यादव,राम उजागिर यादव,ई. डीआर यादव,प्रोफेसर महावीर यादव,एस पी यादव, राज जनक यादव, राज नाथ यादव,अशोक प्रधन, महावीर यादव,सुरेंद्र यादव, सन्दीप यादव (जिला पंचायत सदस्य) आदि लोगों ने श्रद्धासुमन अर्पित किया है। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

भाभी को अकेला देख देवर की नियत हुई खराबा, जानें फिर क्या हुआ, पुलिस को तहरीर का इंतजार

सिद्दीकपुर में चला सरकारी बुलडोजर मुक्त हुई 08 करोड़ रुपए मालियत की सरकारी जमीन

घुस लेते लेखपाल रंगेहाथ गिरफ्तार, मुकदमा दर्ज कर एनटी करप्शन टीम ले गयी साथ