गरीबो के इलाज हेतु प्रत्येक रविवार को ब्लाक स्तर पर सरकार लगा रही है अयोग्य मेला - मंत्री गिरीश चन्द यादव


जौनपुर । खेल एवं युवा कल्याण राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार गिरीश चंद यादव ने आज सदर विधानसभा के ग्राम रामपुर जमीन हिसामपुर स्वास्थ्य केंद्र पर जन आरोग्य मेला का फीता काटकर शुभारंभ किया । 
आरोग्य मेले में आए हुए ग्राम वासियों को संबोधित करते हुए राज्य मंत्री ने कहा कि कि हर रविवार को उत्तर प्रदेश की सरकार हर ब्लॉक में सीएससी पर जन आरोग्य मेरा लगाती है जिसमें सभी प्रकार के दवाइयां निशुल्क वितरित की जाएंगी आंखों की जांच होगी और सभी प्रकार की जांच मरीजों की किया जाएगा इसके लिए किसी प्रकार का कोई शुल्क नहीं लगेगा गरीब से गरीब आदमी भी अपना सभी प्रकार का इलाज करा सकता है उनको पूरी सुविधा दी जाएगी।
राज मंत्री ने मेले में उपस्थित स्वास्थ्य अधिकारियों को इस बात का निर्देश दिया कि इस आरोग्य आरोग्य मेले की जानकारी अगल-बगल के आसपास के सभी गांव में दें जिससे वहां के लोग लाभान्वित हो सके और अपना इलाज व जांच भी करा सके। 
मेले में आई हुई गर्भवती महिलाओं की गोद भराई की रस्म की गई उनको समुचित आहार का एक पैकेट राज्य मंत्री द्वारा दिया गया मुख्य चिकित्सा अधिकारी श्रीमती लक्ष्मी सिंह द्वारा गर्भवती महिलाओं को माल्यार्पण कर स्वागत किया गया आरोग्य मेले में राज्य मंत्री द्वारा आयुष्मान कार्ड भी बांटा गया। राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार गिरीश चंद यादव का मुख्य चिकित्सा अधिकारी श्रीमती लक्ष्मी सिंह पुष्प गुच्छ देकर स्वागत किया गया। राजमंत्री स्वतंत्र प्रभार आरोग्य मेले में सभी स्टाल पर जाकर व्यवस्था की जानकारी ली और ग्रामीण वासियों से मिलकर जानकारी ली किसी प्रकार कोई समस्या हो तो हमको अवगत कराएं । 
आरोग्य मेले में प्रमुख रूप से मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ श्रीमती लक्ष्मी सिंह, डॉ मनोज, सीडीपीओ, राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार के मीडिया प्रभारी मनीष श्रीवास्तव, संजय पाठक ,अतुल पांडे, सचिन पांडे और स्वास्थ्य कर्मचारी गण उपस्थित रहे। आरोग्य मेले का संचालन स्वास्थ्य कर्मी गौरव श्रीवास्तव ने किया

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हर रात एक छात्रा को बंगले पर भेजो'SDM पर महिला हॉस्टल की अधीक्षीका ने लगाया 'गंदी डिमांड का आरोप; अधिकारी ने दी सफाई

यूपी कैबिनेट की बैठक में जौनपुर की इस नगर पालिका के विस्तार का प्रस्ताव स्वीकृत

जफराबाद विधायक का खतरे से बाहर डाॅ गणेश सेठ का सफल प्रयास, लगा पेस मेकर