भाजपा को पिछड़ो का वोट चाहिए लेकिन काम नहीं करने का आरोप, पार्टी कार्यालय पर नियुक्ति से वंचित शिक्षको का प्रदर्शन


प्रदेश की राजधानी लखनऊ स्थित भाजपा के कार्यालय पर आज सोमवार को 69000 शिक्षक भर्ती में नियुक्ति से वंचित आरक्षण प्रभावित अभ्यर्थियों ने कार्यालय का घेराव किया और नियुक्ति दिलाने की मांग करते हुए नारेबाजी की। इसके बाद भी उनकी आवाज अनसुनी होने की खबर है।
अभ्यर्थियों का स्पष्ट आरोप है कि पिछले तीन साल से वह भटक रहे हैं। सरकार से लेकर पिछड़ा वर्ग आयोग भी मान चुका है कि उनका हक मारा गया है। सरकार ने 6400 अभ्यर्थियों की सूची भी तैयार की थी लेकिन कुछ नहीं हुआ वह सूची भी ढाक के तीन पा बनकर रह गयी है।
अभ्यर्थियों ने कोर्ट से निरस्त सूची के बाद समायोजन की मांग की है। उन्होंने कहा कि वह भाजपा कार्यालय के बाहर इसलिए आए हैं कि पिछड़ों के नाम पर वोट तो लिया जाता है लेकिन उनका हक नहीं दिया जाता। आखिर दोहरा मानदण्ड सरकार क्यों अपना रही है। प्रदर्शन कारियों ने एलान किया कि हमारी मांग पर सरकार गम्भीर नहीं हुई तो इसका असर लोकसभा के चुनाव में जरूर नजर आयेगा। प्रदर्शन कारी अभ्यर्थियों का नेतृत्व विजय यादव ने किया।

Comments

Popular posts from this blog

डीएम जौनपुर ने चार उप जिलाधिकारियों का बदला कार्यक्षेत्र जानें किसे कहां मिली नयी तैनाती देखे सूची

पुलिस भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले में जौनपुर की अहम भूमिका एसटीएफ को मिली,जानें कहां से जुड़ा है कनेक्शन

जौनपुर में आधा दर्जन से अधिक थानाध्यक्षो का हुआ तबादला,एसपी ने बदला कार्य क्षेत्र