शैक्षिक प्रमाणपत्र आनलाइन और आफलाइन में अंतर फिर जानें क्यों जारी है शिक्षिका की नौकरी




शिक्षक पात्रता परीक्षा-2011 में फर्जीवाड़े की बू उत्तर प्रदेश में आ रही है। प्रदेश के कासगंज जिले में तैनात शिक्षिका रजनी यादव के प्रमाणपत्र पर ऑफलाइन और ऑनलाइन में जो अंतर मिला है वह फर्जीवाड़े का संकेत दे रहा है। इसकी रिपोर्ट माध्यमिक शिक्षा परिषद से भेजी गई है। शिकायत मिलने पर बीएसए ने शिक्षिका का वेतन रोक दिया। हालांकि ऑफलाइन जांच रिपोर्ट आने के बाद वेतन लगा दिया गया है।
किनावा स्थित प्राथमिक विद्यालय में शिक्षिका रजनी यादव तैनात हैं। उन्होंने 2011 में टेट परीक्षा पास की थी। उनके प्रमाण-पत्र फर्जी होने की शिकायत बीएसए को मिली। इस पर बीएसए ने प्रमाणपत्र पर अंकित अनुक्रमांक 11001951 की ऑनलाइन जांच कराई। ऑनलाइन जांच करने पर मार्कशीट पर चंद्रशेखर पुत्र गोवर्धन का नाम सामने आया। उनका परीक्षाफल अनुत्तीर्ण प्रदर्शित हो रहा था। इस पर बीएसए ने दो दिसंबर 2023 को शिक्षिका का वेतन रोकने के आदेश जारी कर दिए।
साथ ही प्रमाणपत्रों का सत्यापन करने के लिए माध्यमिक शिक्षा परिषद को भेजा। माध्यमिक परिषद से 10 जनवरी 2024 को शिक्षिका के परीक्षा उत्तीर्ण करने की रिपोर्ट भेजी। इस पर बीएसए ने 20 जनवरी 2024 को शिक्षिका के वेतन लगाने के आदेश जारी कर दिए। अब इस कार्रवाई पर सवाल उठ रहें है। शिकायतकर्ता का कहना है कि एक अनुक्रमांक से परिषद में ऑनलाइन जो परीक्षाफल प्रदर्शित हो रहा था, ऑफलाइन जांच में वह कैसे बदल गया।
शिक्षिका रजनी के ऑनलाइन व ऑफलाइन प्रमाणपत्र में अंतर मिलने के मामले को विधायक हरिओम वर्मा ने संज्ञान में लिया। उन्होंने महानिदेशक स्कूल शिक्षा को पत्र लिखा है। उन्होंने पत्र में बीएसए पर भ्रष्टाचार करने का आरोप लगाया है। साथ ही जिले में तैनात शिक्षक देवेंद्र यादव, राजीव कुमार गौतम, अमित कुमार, आनंद कुमार सिंह के टेट प्रमाणपत्र-2011 के फर्जी होने की बात लिखी। उन्होंने बीएसए को पद से हटाकर मामले की जांच कराने की मांग की।
बीएसए राजीव यादव ने बताया कि शिक्षिका रजनी की टेट परीक्षा के प्रमाण-पत्र की ऑनलाइन जांच में चंद्रशेखर का नाम सामने आ रहा है। इनका वेतन रोककर माध्यमिक शिक्षा परिषद को प्रमाणपत्र सत्यापन के लिए भेजा गया है। वहां से रजनी के प्रमाणपत्र को सही बताया गया है। इसके आधार पर वेतन लगा दिया गया है। प्रमाणपत्र की फिर से क्रास चेकिंग कराई जा रही है। ताकि सही स्थिति सामने आ सके। अन्य शिक्षकों के प्रमाणपत्र फर्जी होने की शिकायत मिली है। इसकी भी जांच कराई जा रही है। 

Comments

Popular posts from this blog

पूर्व सांसद धनंजय सिंह के प्राइवेट गनर को गोली मारकर हत्या इलाके में कोहराम पुलिस छानबीन में जुटी

सपा ने जारी किया सात लोकसभा के लिए प्रत्याशियों की सूची,जौनपुर से मौर्य समाज पर दांव,बाबू सिंह कुशवाहा प्रत्याशी घोषित देखे सूची

21 अप्रैल को जौनपुर पहुंच कर लोकसभा क्षेत्र में चुनाव प्रचार का आगाज करेंगे बाबू सिंह कुशवाहा, जाने क्या है पूरा कार्यक्रम