प्रबन्धक द्वारा शिक्षको के उत्पीड़न के खिलाफ मा.शि. संघ ठकुराई गुट ने कालेज गेट पर किया धरना प्रदर्शन


जौनपुर। उ.प्र. माध्यमिक शिक्षक संघ (ठकुराई) गुट के प्रदेश संरक्षक रमेश सिंह, प्रान्तीय उपाध्यक्ष डा. राकेश सिंह, जिलाध्यक्ष तेरस यादव, प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य हृदय नारायण उपाध्याय सहित अन्य पदाधिकारियों एवं राष्ट्रीय इण्टर कालेज सिरसी के सभी शिक्षकों के साथ विद्यालय गेट पर शिक्षण कार्य का बहिष्कार करते हुए प्रबन्धक के उत्पीड़न व उनके तानाशाही विरोध में धरना दिया।
प्रदेश संरक्षक रमेश सिंह ने अवगत कराया कि विद्यालय प्रबन्धक सत्र आरम्भ 1 अप्रैल 2024 को विद्यालय के सभी शिक्षकों को बुलाकर छात्र/छात्राओं से निर्धारित शुल्क के अतिरिक्त विद्यालय संचालन के नाम पर अवैध वसूली हेतु निर्देशित किया गया। लेकिन सभी अध्यापकों द्वारा एक स्वर से इस अवैध वसूली को करने से मना कर दिया गया। परिणामतः अगले दिन 2 अप्रैल 2024 से विद्यालय के कक्षा-कक्षो से शिक्षकों हेतु निर्धारित कुर्सी मेज हटवा दिया गया।
इसकी जानकारी जब विद्यालय के शिक्षकों द्वारा उ.प्र. माध्यमिक शिक्षक संघ (ठकुराई) गुट के पदाधिकारियों को दी गयी तो प्रदेश संरक्षक रमेश सिंह के नेतृत्व में शिक्षकों का प्रतिनिधि मण्डल जिला विद्यालय निरीक्षक महोदय से मिलकर प्रबन्धक महोदय के इस आचरण से अवगत कराया गया और शिक्षको का उत्पीड़न रोकने की मांग की गयी।
जिला विद्यालय निरीक्षक महोदय द्वारा तत्काल विद्यालय प्रबन्धक/प्रधानाचार्य को कक्षा-कक्षों में कुर्सी/मेज उपलब्ध कराये जाने हेतु निर्देशित किया गया। जब उक्त आदेश विद्यालय प्रबन्धक के पास पहुचा तो उन्होंने कहा कि विद्यालय मेरा है और मैं कुर्सी-मेज नहीं दूंगा। यहां जिला विद्यालय निरीक्षक महोदय का आदेश नहीं चलेगा। इससे क्षुब्ध होकर आज दिनांक18-04-2024 को राष्ट्रीय इण्टर कालेज सिरसी के सभी शिक्षकों द्वारा शिक्षण कार्य का बहिष्कार करते हुए विद्यालय गेट पर धरना दिया गया।
धरने को सम्बोधित करते हुए प्रदेश संरक्षक रमेश सिंह ने कहा कि यदि इसके बाद भी विद्यालय के कक्षा-कक्षों में शिक्षकों हेतु कुर्सी/मेज प्रबन्धक/प्रधनाचार्य द्वारा उपलब्ध नहीं कराया गया तो संगठन शिक्षकों के साथ मिलकर अनिश्चित कालीन तालाबन्दी करने के लिए बाध्य होगा जिसका सम्पूर्ण उत्तदायित्व विद्यालय प्रबन्धक का होगा।

Comments

Popular posts from this blog

जौनपुर और मछलीशहर (सु) लोकसभा में जानें विधान सभा वारा मतदान का क्या रहा आंकड़ा,देखे चार्ट

मतगणना स्थल पर ईवीएम मशीन को लेकर हंगामा करने वाले दो सपाई सहित 50 के खिलाफ एफआईआर

आयोग और जिला प्रशासन के मत प्रतिशत आंकड़े में फिर मिला अन्तर