प्रवासी मजदूरों के सामने अन्ततः प्रशासन झुका,भेजा सभी को घर



      जौनपुर।  लाक डाऊन में  क्वारंटाइन की अवधि पूरा करने के पश्चात घर जाने की जिद पर अड़े सल्तनत बहादुर इन्टर कालेज में बिहार एवं झारखंड के प्रवासी मजदूरों के सामने अन्ततः प्रशासन को नतमस्तक होना पड़ा।  आज सरकारी व्यवस्था के साथ बसो के जरिए सभी को बिहार एवं झारखंड के लिए रवाना कर दिया गया है। 
बतादे  क्वारंटाइन की अवधि पूरा होने के बाद विगत चार दिनो से प्रवासी मजदूरों  ने सरकारी भोजन पानी त्याग कर अनशन पर बैठ गये थे।  एसडीएम बदलापुर लगातार समझा रहे थे लेकिन मजदूरों की एक जिद थी हम मर जायेंगे लेकिन अब यहाँ पर खाना नहीं खायेंगे हमे हमारे घरों को भेजा जाये ।
चार दिन तक सरकारी तंत्र टाल मटोल किया लेकिन बाद में मजदूरों के जिद के सामने घुटना टेकते हुए उन्हें घर भेजने को तैयार हो गया।  अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व राम प्रकाश आज क्वारंटाइन स्थल सल्तनत बहादुर इन्टर कालेज पहुंचे और सभी मजदूरों से वार्ता करते हुए उनको बसों में बिहार एवं झारखंड के लिए रवाना कर दिया । मजदूरों को रास्ते में खाने के लिए लंच पैकेट पानी आदि की समुचित व्यवस्था एडीएम ने कराया। इस सन्दर्भ में बात करने पर एडीएम ने बताया कि सभी की जांच रिपोर्ट नहीं आयी थी जिसके कारण कुछ बिलम्ब हुआ परन्तु जैसे ही आज रिपोर्ट प्राप्त हुई तुरन्त प्रवासी मजदूरों को उनके घरों को भेजने की व्यवस्था कर दी गयी है।

Comments

Popular posts from this blog

डीएम जौनपुर ने चार उप जिलाधिकारियों का बदला कार्यक्षेत्र जानें किसे कहां मिली नयी तैनाती देखे सूची

पुलिस भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले में जौनपुर की अहम भूमिका एसटीएफ को मिली,जानें कहां से जुड़ा है कनेक्शन

जौनपुर में आधा दर्जन से अधिक थानाध्यक्षो का हुआ तबादला,एसपी ने बदला कार्य क्षेत्र