मतदान के लिए वोटर को अपनी पहचान के लिए इन दस्तावेजो को दिखाना होगा



जौनपुर । उप जिला निर्वाचन अधिकारी राम प्रकाश ने अवगत कराया है कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा लिये गये निर्णय के अनुसार विधान सभा सामान्य निर्वाचन-2022 हेतु मतदाता फोटो पहचान पत्र के विकल्प के सम्बन्ध में प्रतिरुपण को रोकने की दृष्टि से मतदान के समय मतदाता को अपनी पहचान सिद्ध करने के लिए अपना मतदाता फोटो पहचान पत्र प्रस्तुत करना होगा, परन्तु मतदाता जो अपना मतदाता फोटो पहचान पत्र प्रस्तुत नहीं कर पाते है, उन्हें अपनी पहचान स्थापित करने के लिए विभिन्न वैकल्पिक फोटो पहचान दस्तावेजों में से कोई एक प्रस्तुत करना होगा यथा आधार कार्ड, मनरेगा जॉब कार्ड, बैंको/डाकघरों द्वारा जारी की गई फोटोयुक्त पासबुक, श्रम मंत्रालय की योजना के अंतर्गत जारी स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, एनपीआर के अन्तर्गत आरजीआई द्वारा जारी किये गये स्मार्ट कार्ड, भारतीय पासपोर्ट, फोटोयुक्त पेंशन दस्तावेज, केन्द्र/राज्य सरकार/लोक उपक्रम/पब्लिक लिमिटेड कम्पनियों द्वारा अपने कर्मचारियों को जारी किये गये फोटोयुक्त सेवा पहचान पत्र, सांसदों, विधायकों/विधान परिषद सदस्यों को जारी किए गए सरकारी पहचान पत्र, यूनिक डिसएबिलिटी आईडी (यूडीआईडी) कार्ड, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय, भारत सरकार।
एपिक के सम्बन्ध में लेखन, अशुद्धि वर्तनी की अशुद्धि को नजरअन्दाज कर देना चाहिये बशर्ते निर्वाचक की पहचान ईपीआईसी से सुनिश्चित की जा सके। यदि कोई निर्वाचक फोटो पहचान पत्र प्रदर्शित करता है, जो कि किसी अन्य विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र के निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी द्वारा जारी किया गया है, ऐसे इपिक भी पहचान स्थापित करने हेतु स्वीकृत किये जायेगें, बशर्त उस निर्वाचक का नाम जहां यह मतदान करने आया है, उस मतदान केन्द्र से संबंधित निर्वाचक नामावली में उपलब्ध हो। फोटोग्राफ इत्यादि के बेमेल होने के कारण निर्वाचक की पहचान सुनिश्चित करना सम्भव न हो, तब निर्वाचक को उपरोक्त वैकल्पिक फोटो दस्तावेज का प्रस्तुत करना होगा।
उपरोक्त किसी भी बात के होते हुए भी प्रवासी निर्वाचकों, जो अपने पासपोर्ट में विवरणों के आधार पर लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम, 1650 की धारा 20क के अधीन निर्वाचक नामावलियों में पंजीकृत है, उन्हें मतदान केन्द्र में केवल उनके मूल पासपोर्ट (कोई अन्य पहचान दस्तावेज नही) के आधार पर ही पहचाना जायेगा।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

भीषण सड़क दुर्घटना में दस लोगो की मौत दो दर्जन गम्भीर रूप से घायल, उपचार जारी

यूपी में जौनपुर के माधोपट्टी के बाद संभल औरंगपुर जानें कैसे बना आइएएस आइपीएस की फैक्ट्री

सरकार ने प्रदेश के इन 12 आईपीएस अधिकारियों का किया तबादला