डिस्कवरी लैब से प्राथमिक के बच्चों वैज्ञानिक दृष्टिकोण का होगा विकास- डीएम मनीष कुमार वर्मा


जनपद के पहले प्राथमिक विद्यालय ताहिरपुर में डिस्कवरी लैब आज डीएम द्वारा हुआ उद्घाटित 

जौनपुर। विकास खण्ड सिकरारा के प्राथमिक विद्यालय ताहिरपुर में डिस्कवरी लैब का उद्धघाटन करते जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा ने कहा कि सरकारी विद्यालय किसी कान्वेन्ट स्कूल से कम नहीं है। डिस्कवरी लैब के माध्यम से परिषदीय स्कूलों के बच्चों में वैज्ञानिक दृष्टिकोण के विकास के साथ सीखने की क्षमता का भी विकास होगा। उन्होंने कहा कि विज्ञान प्रत्येक प्रश्न का जवाब है, लैब स्थापित होने से सभी बच्चों का ज्ञान वर्धन होगा। जिलाधिकारी ने  बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिया कि 15 अगस्त 2022 तक जनपद के सभी न्याय पंचायतों में डिस्कवरी लैब स्थापित किया जाए।
उन्होंने अध्यापकों से कहा कि देश के निर्माण में उनका बड़ा योगदान होता है। कायाकल्प के माध्यम से परिषदीय स्कूलों को कान्वेंट स्कूलों से बेहतर बनाने का प्रयास किया जा रहा है। सरकारी विद्यालयों में प्राइवेट विद्यालयों की अपेक्षा ज्यादा योग्य शिक्षक होते है। उन्होंने अध्यापकों से आवाहन किया कि समर्पित होकर कार्य करें। बच्चों को गलत आचरण न सिखाएं। हमेशा बच्चों को आगे बढ़ने एवं कुछ अलग करने के लिए उनका मनोबल बढ़ाया जाए। सरकार के द्वारा विद्यालयों में सुधार के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं।
 जनपद से स्थानांतरित हो चुके मुख्य विकास अधिकारी अनुपम शुक्ला ने कहा डिस्कवरी लैब स्थापित करने का उद्देश्य बच्चों में वैज्ञानिक सोच विकसित करना है, जिससे कि वे अपने जीवन के प्रत्येक कार्य को वैज्ञानिक तरीके से सम्पादित कर सके। उन्होंने कहा कि बच्चों में उत्साह पैदा किया जाए ताकि वे अपने जीवन के कुछ नया कर सके। बेसिक शिक्षा अधिकारी डॉ गोरखनाथ पटेल ने कहा कि ताहिरपुर प्राथमिक विद्यालय पर जनपद का पहला डिस्कवरी लैब स्थापित कराने में जिलाधिकारी के मार्गदर्शन से संभव हुआ है। जिसके वजह से से कम समय मे लैब स्थापित हो गया, भविष्य में जिलाधिकारी के नेतृत्व में हम पूरी ऊर्जा के साथ सभी न्याय पंचायतो में डिस्कवरी लैब स्थापित कराने का कार्य करेंगे। उन्होंने विज्ञान की महत्ता पर प्रकाश डालते हुए कहा कि विज्ञान सभी समस्याओं को समाधन करता है, इस लिए बच्चो में प्रारंभ से ही विज्ञान के प्रति रुचि पैदा करने का प्रयास किया जा रहा है। अध्यापकों से कहा कि बच्चो के मन मे उठने वाली जिज्ञासा को शांत करें।  
सभी अतिथियों का स्वागत करते हुए प्रधानाध्यापक व प्राथमिक शिक्षक संघ जिलाध्यक्ष अमित सिंह ने कहा जनपद का पहला डिस्कवरी लैब जिले के उच्चाधिकारियों के निर्देश पर ग्राम पंचायत व समुदाय के सहयोग से सम्भव हो पाया है, भविष्य में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के लिए अपनी पूरी ऊर्जा के साथ तत्पर रहूंगा।
डीएम ने उद्घाटन करने के पश्चात डिस्कवरी लैब में लगे विविध उपकरणों का निरीक्षण करने के साथ बच्चों से जानकारी ली। बच्चों ने बेबाकी से उत्तर भी दिया। वक्ताओं में खण्ड विकास अधिकारी अनिल सिंह, आनंद प्रकाश सिंह, उदयभान कुशवाहा, नीरज श्रीवास्तव, अरविंद पाण्डेय, अश्वनी सिंह, राजू सिंह, संजय सिंह, रोहित यादव, राजेश टोनी, चंदन सिंह, विशाल सिंह, अनुज सिंह, राजीव सिंह लोहिया, सचिव अरुण यादव प्रधान जयशंकर यादव डब्बू आदि रहे। कार्यक्रम का संचालन पूर्व माध्यमिक शिक्षक संघ जिलाध्यक्ष सुशील उपाध्याय ने किया।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जौनपुर का बेटा बना यूनिवर्सिटी आफ टोक्यो जापान में प्रोफ़ेसर, लगा बधाईयों का तांता

इलाहाबाद हाईकोर्ट का ग्रामसभा की जमीन को लेकर डीएम जौनपुर को जानें क्या दिया आदेश

यूपी में फिर 11 आईएएस अधिकारियों का तबादला, देखे सूची