फर्जी दस्तावेज के आधार पर मास्टर बने युवक को पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा जेल, एबीएसए ने दर्ज कराया एफआईआर


जनपद आजमगढ़ के अतरौलिया क्षेत्र के फर्जी दस्तावेज पर परिषदीय विद्यालय में विज्ञान शिक्षक की नौकरी करने वाले को पुलिस ने अतरौलिया रोडवेज के पास से गिरफ्तार कर दर्ज मुकदमें के तहत जेल भेज दिया है। वह संतकबीर नगर जिले का रहने वाला है। सत्यापन में फर्जीवाड़ा पकड़ में आने पर खण्ड शिक्षाधिकारी ने उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था।
संतकबीर नगर जिले के सतहरा गांव निवासी रामजतन ने आजमगढ़ के जिलाधिकारी को पत्र देकर अतरौलिया के उच्च प्राथमिक विद्यालय जमीन दसांव में तैनात शिक्षक नंदलाल उपाध्याय पर फर्जी दस्तावेज के जरिए नौकरी करने की शिकायत की थी। नंदलाल भी संत कबीर नगर सतहरा का गांव का ही रहने वाला है। डीएम ने बेसिक शिक्षा अधिकारी से दस्तावेजों की जांच करने को कहा।
नंदलाल से स्पष्टीकरण मांगा गया तो उसने जो प्रमाण पत्र जमा किए वे सत्यापन में फर्जी पाए गए। ऑनलाइन सत्यापन में पता चला कि नंदलाल ने राम निहाल नामक किसी व्यक्ति के दस्तावेज को परिवर्तित करके प्रस्तुत किया था। इसके बाद एसडीआई ने अतरौलिया थाने में मुकदमा दर्ज कराया था। अतरौलिया पुलिस ने नंदलाल को बुधवार की शाम अतरौलिया रोडवेज के पास से गिरफ्तार कर लिया और जेल भेज दिया है। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जौनपुर में बसपा को जोर का झटका करीने से, डॉ जेपी सिंह ने सुभासपा किया ज्वाइन

यूपी: भाजपा ने जारी किया पहले और दूसरे चरण में चुनाव के प्रत्याशियों की सूची,योगी जी लड़ेंगे गोरखपुर से ,देखे सूची

मल्हनी विधायक लकी यादव एवं उनके एक दर्जन समर्थको पर बक्शा थाने में दर्ज हुआ मुकदमा