बड़ा हादसा: नाव डूबी 06 की महिलाओ ने बचायी जान 06 नदी में लापता जाल लगाकर तलाश जारी


जनपद मिर्जापुर स्थित विंध्यधाम क्षेत्र के अखाड़ा घाट पर आज बुधवार की दोपहर गंगा पार से स्नान करने के बाद दर्शनार्थियों को लेकर आ रही नाव गंगा में पलट गई। जिससे उसमें सवार नाविक समेत 12 लोग गंगा नदी में डूबने लगे। नाव डूबने पर गंगा किनारे मौजूद महिलाओ ने साहसिक परिचय देते हुए नदी में कूद कर छः लोंगो की जान बचा लिया जबकि सूचना पर पुलिस ने गोताखोरों की मदद से 
छह लापता लोंगो खोज कर रही है। खबर है कि मौके पर पुलिस जाल डलवा कर गोताखोरों की मदद से लापता लोगों की तलाश में जुटी है।
जानकारी के अनुसार, झारखंड के रांची से एक परिवार के 11 लोग मां विंध्यवासिनी के दर्शन-पूजन करने के लिए बुधवार को विंध्याचल पहुंचे थे। दर्शन पूजन करने से पहले सभी गंगा घाट स्नान करने के लिए गए। परिवार के सभी लोग अखाड़ा घाट पर पहुंचे तो वहां पर कीचड़ था, इसलिए गंगा स्नान करने के लिए सभी नाव पर सवार होकर गंगा पार गए।
स्नान करने के बाद सभी नाव पर सवार होकर उस पार से इस पार आ रहे थे, तभी बारिश के साथ तेज हवा चलने लगी। इस बीच नाव गंगा में पलट गई। जिसमें नाविक समेत सभी 12 लोग गंगा नदी में गिर गए।
गंगा किनारे मौजूद महिलाओं ने गंगा में कूदकर पांच लोगों को बाहर निकाला और पुलिस को सूचना दी। सूचना पर पहुंची पुलिस जाल डालकर आसपास के अन्य गोताखोरों को बुलाकर गंगा में डूबे छह लोगों की तलाश में जुटी है। नाव हादसे में रितिका कुमारी, राजेश कुमार तिवारी, भोला तिवारी, विकास तिवारी, सुधीर कुमार यादव, नाविक गौतम निषाद बचाए गए हैं। अनिशा, खुशबू, गुड़िया, शौर्य, सत्यम, आराध्या लापता हैं। डीआईजी, डीएम, एसपी सहित कई अधिकारी मौके पर मौजूद हैं।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रातः काल तड़तड़ाई गोलियां, बदमाशों ने अखिलेश यादव की कर दिया हत्या,ग्रामीण जनों में घटना को लेकर गुस्सा

मुम्बई से आकर बदलापुर थाने में बैठी प्रेमिका, पुलिस को प्रेमी से मिलाने की दी तहरीर, पुलिस पर सहयोग न करने का आरोप

आइए जानते है कहां पर बारिश के दौरान आकाश से गिरी मछलियां, ग्रामीण रहे भौचक