मौसम का मिजाज बदलते ही वर्षात और ओलावृष्टि, जन जीवन से लेकर फसलों पर जानें क्या है कुप्रभाव


जौनपुर। मौसम में आये बदलाव के बाद जनपद मुख्यालय के उत्तरी क्षेत्र करंजा कला ब्लाक के कुछ इलाको में बरसात के साथ भारी ओलवृष्टि से किसानो को जहां भारी क्षति की खबर है वहीं पर इस वर्षात और ओलावृष्टि से तापमान मान में भारी गिरावट की संभावना जतायी जा रही है और गलन के साथ ठंड बढ़ने से जीव जन्तु सभी की मौश्किले बढ़ सकती है। 
मिली खबर के अनुसार आज दिन में करंजा कला विकास खण्ड के कोइरीडीहा, जपटापुर, समदहा,पोटरिया आदि ग्रामीण क्षेत्रो में वर्षात के साथ भारी ओलावृष्टि हुई है। तो रात्रि के समय लगभग 08 बजे के आसपास जनपद मुख्यालय पर कुछ इलाके में बरसात के साथ ओलावृष्टि ने जन जीवन को अस्त व्यस्त कर दिया है। वर्षात के साथ ही गलन बढ़ने लगी और तापमान का पारा नीचे भागने लगा है। 
खबर है कि दिन में हुई भारी वर्षात और ओलावृष्टि दोनों को साथ साथ होने से किसानों की खड़ी फसल को भारी क्षति पहुंची है। जिसमें सरसों की फसल आलू चना मटर अरहर प्याज और साथ ही साथ गेहूं की फसल पर नुकसान पहुंचेगी जिसको लेकर किसानों में चिंता बढ़ गई की खड़ी फसल बढ़ कर कटने को तैयार हो रही है। मौसम विज्ञानी डाॅ सुरेश कुमार के अनुसार बारिश और ओलावृष्टि से तापमान में गिरावट आना तय है यह मनुष्य से लेकर पशु पक्षियों की मुश्किलें बढ़ जायेगी इसका कुप्रभाव जन जीवन पर बुरा पड़ सकता है। किसान आमजन को चिंता बढ़ी कि फसल कटी नहीं ओलावृष्टि पढ़ने से बर्बाद हो गई एक साल तक का जीवन यापन कैसे किया जा सकेगा।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

इलाहाबाद हाईकोर्ट का ग्रामसभा की जमीन को लेकर डीएम जौनपुर को जानें क्या दिया आदेश

सिकरारा क्षेत्र से गायब हुई दो सगी बहने लखनऊ से हुई बरामद, जानें क्या है कहांनी

ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने दबंगो के कब्जे से मुक्त करायी 30 करोड़ रुपए कीमत की सरकारी जमीन