शासन का पूरा जोर गोवंश संरक्षण पर,नोडल अधिकारी को गो आश्रय स्थल के निरीक्षण मे मिला आल इज ओक


जौनपुर। शासन द्वारा नामित विभागीय नोडल अधिकारी/निदेशक पशुपालन विभाग उत्तर प्रदेश लखनऊ डॉक्टर इंद्रमणि के द्वारा गो-आश्रय स्थल, शाहपुर विकासखंड बदलापुर, सादनपुर विकासखंड बक्सा एवं गो-आश्रय स्थल कृषि भवन का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने पाया कि गो-आश्रय स्थलों में भूसा भंडारण की क्षमता है और मौके पर पर्याप्त भूसा पाया भी गया। कहीं भी जलजमाव की स्थिति नहीं पाई गई। उन्होंने मुख्यमंत्री  सहभागिता योजना के तहत दिए गए गोवंशो का सत्यापन भी किया। इस तरह उन्हे सब कुछ आल इज ओक नजर आया जो सच से कोसो दूर है।
लाभार्थियों के द्वारा बताया गया कि धनराशि प्राप्त हो रही है। नोडल अधिकारी द्वारा जनपद में समस्त उप मुख्य पशुचिकित्साधिकारी/मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित किया कि प्रत्येक दिन गोआश्रय का भ्रमणकर अनुश्रवण एवं मूल्यांकन की समीक्षा से अवगत कराते रहे। यदि किसी प्रकार की समस्या उत्पन्न होती है तो तत्काल उच्चधिकारियों को अवगत कराये।
इसके उपरान्त नोडल अधिकारी द्वारा विकास भवन के सभागार में जिला पंचायत राज अधिकारी, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी, समस्त उप मुख्य पशुचिकित्साधिकारी/मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी के साथ विभागीय कार्यो की समीक्षा की और निर्देशित किया गया कि गौशाला में पायी गयी कमियों को दूर कराते हुए एचएस टीकाकरण का कार्य शत-प्रतिशत पूर्ण कराया जाय एवं चारागाह की चिन्हाकित जमीन पर हरा चारा बोने हेतु ग्राम प्रधान से सम्पर्क कर हरा चारा उगाया जाय।        

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हर रात एक छात्रा को बंगले पर भेजो'SDM पर महिला हॉस्टल की अधीक्षीका ने लगाया 'गंदी डिमांड का आरोप; अधिकारी ने दी सफाई

यूपी कैबिनेट की बैठक में जौनपुर की इस नगर पालिका के विस्तार का प्रस्ताव स्वीकृत

जफराबाद विधायक का खतरे से बाहर डाॅ गणेश सेठ का सफल प्रयास, लगा पेस मेकर