स्वतन्त्रता दिवस की वर्षगांठ पर स्वाधीनता संग्राम में शहीद योद्धाओ के परिजनो के रोडवेज मंच ने किया सम्मानित


शहीदो के परिवार को सम्मानित करके हम खुद गौरव महसूस करते है- सुरेन्द्र प्रताप सिंह 

जौनपुर। स्वतन्त्रता दिवस की 77 वीं वर्षगांठ पर जनपद मुख्यालय स्थित रोडवेज तिराहा के पास रोडवेज मंच के बैनर तले वरिष्ठ भाजपा नेता एवं समाज सेवी जय प्रकाश सिंह जेपी होटल के संरक्षकत्व में पूर्व विधायक सुरेन्द्र प्रताप सिंह के नेतृत्व में स्वतन्त्रता संग्राम में शहीद हुए योद्धाओ के परिवार के सदस्यों को अंग वस्त्रम देकर सम्मानित किया गया है।
इस अवसर पर स्वतन्त्रता संग्राम के योद्ध स्व राम लखन सिंह के छोटे पुत्र जितेन्द्र प्रताप सिंह और स्व कुंज विहारी सिंह के पौत्र रजनीश सिंह को अंग वस्त्रम दिया गया। इस अवसर पर पूर्व विधायक सुरेन्द्र प्रताप सिंह ने कहा स्वतन्त्रता दिवस के पावन पर्व पर देश की स्वाधीनता के लिए अपने प्राणो को न्योछावर करने वाले वीर सपूतो के परिवार को सम्मानित करना सही मायने में राष्ट्र प्रेम है। 77 वीं वर्षगांठ पर रोडवेज मंच के संस्थापक जय प्रकाश सिंह जी ने इसकी पहल किया वह बधाई के पात्र है। श्री सिंह ने यह भी कहा आजाद भारत में शहीदो के परिजनो को सम्मानित करके हम सब खुद गौरव की अनुभूति करते है।
इस अवसर पर स्वतन्त्रता के जश्न में डूबे रोडवेज मंच के सभी सदस्यो ने एक दूसरे को मिष्ठान खिला कर जश्न मनाया। कार्यक्रम में भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष हरिश्चंद्र सिंह एडवोकेट, नामवर सिंह, वरिष्ठ कांग्रेस नेता राजेश कुमार सिंह, जौनपुर प्रेस क्लब के अध्यक्ष कपिल देव मौर्य, वरिष्ठ पत्रकार लोलारक दुबे, अशोक कुमार सिंह, किरन प्रताप सिंह, बृजेश तिवारी एडवोकेट, बिनोद सिंह शिवपार, श्रीकांत सोलंकी, शिक्षक नेता संजय सिंह, राजेश सिंह,सुधीर सिंह, जनार्दन सिंह, विकास सिंह, मनोज सिंह,सरोज सिंह, सिद्धार्थ सिंह, लक्ष्मीकांत सिंह, मुन्ना, अजीत कुमार सिंह, त्रिलोकी मौर्य मामा आदि बड़ी संख्या प्रबुद्ध जन उपस्थित रहे। 

Comments

Popular posts from this blog

जौनपुर में चुनावी तापमान बढ़ाने आ रहे है सपा भाजपा और बसपा के ये नेतागण, जाने सभी का कार्यक्रम

अटाला मस्जिद का मुद्दा भी अब पहुंचा न्यायालय की चौखट पर,अटाला माता का मन्दिर बताते हुए परिवाद हुआ दाखिल

मछलीशहर (सु) लोकसभा में सवर्ण मतदाताओ की नाराजगी भाजपा के लिए बनी बड़ी समस्या,क्या होगा परिणाम?