जिले में अब प्रशासन करायेगा भजन कीर्तन,14 से 22 जनवरी तक होगा रामायण पाठ तैयारी शुरू, डीएम ने अपने अधीनस्थो को दिया यह निर्देश



जौनपुर में 14 से 22 जनवरी तक मन्दिरो में रामायण पाठ भजन कीर्तन की जिम्मेदारी संभाला जिला प्रशासन, डीएम ने बैठक कर
तैयारियों का लिया जायजा,कार्यक्रम कराने के लिए नियुक्त होगे नोडल अधिकारी 

जौनपुर। जिलाधिकारी अनुज कुमार झा की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में जनपद में 14 से 22 जनवरी 24 तक जनपद के समस्त राम मंदिरों, हनुमान मंदिरों, वाल्मीकि मंदिरों आदि में रामकथा, रामायण-पाठ, भजन/कीर्तन आदि सांस्कृतिक कार्यक्रम कराये जाने के सम्बन्ध में बैठक सम्पन्न हुई।
उक्त बैठक में जिला सूचना पर्यटन अधिकारी  ने अवगत कराया कि नगर मजिस्ट्रेट, समस्त उपजिलाधिकारी, समस्त अधिशासी अधिकारी/अध्यक्ष नगर पालिका/नगर पंचायत, खण्ड विकास अधिकारी, डीपीआरओ, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी, बीएसए, जिला विद्यालय निरीक्षक के सहयोग से 14 जनवरी से 22 जनवरी, 2024 को समस्त मंदिरों में दीप प्रज्जवलन/दीप दान, जनपद में नगर निकायों में निर्मित/स्थापित प्रमुख राम मंदिर, हनुमान मंदिर एवं वाल्मीकि मंदिरों का चयन कर उसकी सूची पोर्टल पर अपलोड कराया जाना, मंदिरों में साफ-सफाई, टेन्ट, पेयजल, सुरक्षा, दरी, आदि की व्यवस्था, कलाकारों का चयन संस्कृति विभाग तथा सूचना विभाग में पंजीकृत कलाकारों में किया जाना (स्थानीय भजन/कीर्तन मण्डलियों को प्राथमिकता), दिनांक 22 जनवरी, 2024 को समस्त घरों में दीप प्रज्जवलन/दीप दान, 14 जनवरी 2024 से 22 जनवरी 2024 तक कलश यात्रा का आयोजन किया जाना है।
बैठक में जिलाधिकारी द्वारा सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि उपरोक्त कार्यक्रम के सन्दर्भ में सभी प्रकार की तैयारिया अभी से कर ले, उन्होंने तहसील स्तर, विकास खण्ड स्तर पर मंदिरों को चिहिन्त करते हुए नोडल अधिकारी नामित करने के निर्देश दिये है।
जिला पंचायत राज अधिकारी एवं अधि0 अधिकारी नगर पालिका/नगर पंचायत को वृहद रुप से मंदिरों एवं घाटों पर साफ-सफाई कराये जाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि प्रमुख चौराहों पर सजावट कराया जाये, सांस्कृतिक कार्यक्रम कराया जाए, खेल अधिकारी एवं डीसी एनआरएलएम को कलश यात्रा निकालने हेतु निर्देशित किया। पुलिस विभाग के द्वारा सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिये, अराजक तत्वों पर विशेष ध्यान रखने के निर्देश दिये।
जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 लक्ष्मी सिंह को निर्देश दिया कि सीएचसी/पीएचसी/जिला अस्पताल में स्वास्थ्य व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। उन्होंने समस्त अधिकारियों को निर्देशित किया कि कोई भी अधिकारी मुख्यालय नही छोडे़गा और शासन के  निर्देशानुसार कार्यक्रम सकुशल सम्पन्न कराया जाये।इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी साई तेजा सीलम, मुख्य राजस्व अधिकारी गणेश प्रसाद, समस्त उपजिलाधिकारिगण सहित विभिन्न विभागों के अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद