रंगेहाथ घूस लेते घूसखोर लेखपाल हुआ गिरफ्तार, भेजा गया जेल

भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की टीम द्वारा लगातार घूसखोर अधिकारी और कर्मचारी को रंगेहाथ गिरफ्तार कर जेल भेजने की कार्यवाई की जा रही हे इसके बाद भी कोई ऐसा विभाग नहीं जहां बगैर रिश्वत के काम हो रहा हो। नया मामला है कि भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की टीम ने गुरुवार को पचपटिया गांव से एक लेखपाल को रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया। टीम ने यह कार्रवाई गांव में विकसित भारत संकल्प यात्रा के दौरान की। जिससे प्रशासनिक अमले में भी खलबली मच गई। लेखपाल को टीम चौरी थाने ले आई और आगे की कार्रवाई में जुट गई। मामले की जानकारी होने पर बड़ी संख्या में क्षेत्र के लेखपाल भी थाने पर पहुंच गए।
भदोही तहसील के अमवा खुर्द निवासी रामअचल राजभर ने नौ जनवरी को भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की मिर्जापुर टीम से शिकायत दर्ज कराई थी कि बहू के नाम जमीन पट्टा होना है और लेखपाल दशरथ कुमार रिपोर्ट लगाने के नाम पांच हजार रुपये की रिश्वत मांग रहा है। शिकायत पर टीम लेखपाल को रंगेहाथ पकड़ने के लिए लग गई। लेखपाल दशरथ कुमार अमवा के अलावा पचपटिया ग्रामसभा का भी लेखपाल हैं। 
गुरुवार को पचटिया के पूर्व माध्यमिक विद्यालय में विकसित भारत संकल्प यात्रा का कार्यक्रम चल रहा था। उसी दौरान भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की टीम पहुंची और लेखपाल को रंगेहाथ रिश्वत लेते पकड़ लिया। टीम के इस्पेक्टर अनिल कुमार चौरसिया ने बताया कि शिकायत पर कार्रवाई की गई। लेखपाल दशरथ कुमार को पांच हजार रुपये रिश्वत लेते रंगेहाथ पकड़ा गया है। लेखपाल दशरथ कुमार को चौरी थाने लाया गया है। विधिक कार्रवाई करते हुए जेल भेज दिया गया है।

Comments

Popular posts from this blog

डीएम जौनपुर ने चार उप जिलाधिकारियों का बदला कार्यक्षेत्र जानें किसे कहां मिली नयी तैनाती देखे सूची

पुलिस भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले में जौनपुर की अहम भूमिका एसटीएफ को मिली,जानें कहां से जुड़ा है कनेक्शन

जौनपुर में आधा दर्जन से अधिक थानाध्यक्षो का हुआ तबादला,एसपी ने बदला कार्य क्षेत्र