पीयू में देखा गया युवा दिवस पर पीएम, सीएम लाइव


युवाओं की ताकत पर अर्थव्यवस्था में मजबूती आईः नरेन्द्र मोदी

भारत से ही होकर जाता है विश्व कल्याण का रास्ताः योगी आदित्यनाथ

जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के आर्यभट्ट सभागार में शुक्रवार को युवा दिवस पर देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कार्यक्रम को लाइव देखा गया। इस दौरान नासिक में आयोजित कार्यक्रम के माध्यम से युवाओं को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि युवाओं के ताकत पर ही भारत दुनिया कि पांच बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में आया है। आज का ये दिन भारत की युवाशक्ति का दिन है। ये दिन उस महापुरुष को समर्पित है जिसने गुलामी के कालखंड में भारत को नई ऊर्जा से भर दिया था। ये मेरा सौभाग्य है कि स्वामी विवेकानंद की जयंती पर मैं आप सब नौजवानों के बीच नासिक में हूं। स्वामी विवेकानंद जी भी कहते थे कि भारत की उम्मीदें भारत के युवाओं के चरित्र और उनकी प्रतिबद्धता पर टिकी है। स्वामी विवेकानंद का ये मार्गदर्शन आज 2024 में भारत के युवा के लिए बहुत बड़ी प्रेरणा है।

लखनऊ में एकेटीयू में युवा दिवस के तहत आयोजित कार्यक्रम में प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने युवाओं को टैबलेट वितरित किया। इस दौरान उन्होंने युवाओं से संवाद भी किया। उन्होंने कहा कि स्वामी विवेकानंद ने पूरी दुनिया को राह दिखाई है। किसी भी समस्या का हल उस पर विचार करके हासिल किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि विश्व कल्याण का रास्ता भारत से ही निकलता है। युवाओं को संबोधित करते हुए कहा आने वाला समय युवाओं का है। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पहले यूपी के युवा अपनी पहचान छुपाते थे, अब यूपी के युवा बेहतर कानून व्यवस्था के चलते खुल कर अपना परिचय दे पाते हैं। इस बीच मिशन शक्ति और राष्ट्रीय सेवा योजना की तरफ से भी कई कार्यक्रम किए गए।

इस मौके पर विश्वविद्यालय के छात्र-छात्राओं को स्वामी विवेकानंद के जीवन पर आधारित पुस्तक ‘व्यक्तित्व का विकास’  कुलसचिव, वित्त अधिकारी और परीक्षा नियंत्रक द्वारा वितरित की गई। इस मौके पर कुलसचिव महेन्द्र कुमार, वित्त अधिकारी संजय कुमार राय, परीक्षा नियंत्रक अजीत प्रताप सिंह, उप कुलसचिव बबिता सिंह, प्रो. अजय द्विवेदी, प्रो. बीडी शर्मा, प्रो. देवराज सिंह,  डॉ. प्रमोद यादव, प्रो. मिथिलेश सिंह, प्रो. प्रदीप कुमार, डॉ. राजकुमार, डॉ. मनीष प्रताप सिंह,  डॉ. आशुतोष सिंह, डॉ. मनीष गुप्ता, डॉ. गिरधर मिश्र, डॉ. सुनील कुमार, डॉ. दिग्विजय सिंह राठौर,  डॉ. अमित वत्स, डॉ. इंद्रेश कुमार, डॉ. जान्हवी श्रीवास्तव, आदि मौजूद रहे।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद