तेज रफ्तार का कहर:तीन हाकर चपेट में दो की मौत,तीसरा गम्भीर घायल,चक्का जाम कर हुआ विरोध,पुलिस विधिक कार्यवाई में जुटी


वाराणसी के चौबेपुर क्षेत्र के ढकवां गांव के समीप शनिवार की सुबह एक अनियंत्रित कार ने तीन समाचार पत्र विक्रेताओं को कुचल दिया। हादसे में दो समाचार पत्र विक्रेताओं की मौत हो गई। वहीं, तीसरा गंभीर रुप से घायल है। तीनों विक्रेता समाचार पत्र लेने पांडेयपुर जा रहे थे।
मृतकों में संजीव कुमार (35) व शैल कुमार (34) शामिल हैं। वहीं, प्रमोद कुमार (32) की हालत गंभीर बताई जा रही है। आसपास के लोगों ने उसे इलाज के लिए अस्पताल पहुंचाया। दूसरी तरफ, गुस्साए लोगों ने वाराणसी-गाजीपुर हाइवे को जाम कर दिया। करीब डेढ़ घंटे की जाम की सूचना पर पहुंची पुलिस ने लोगों को समझाया। मौके पर एडीसीपी, एसडीएम, एसीपी भी पहुंचे।
मिली जानकारी के अनुसार, चौबेपुर के ढकवां गांव निवासी शैल कुमार राम पुत्र स्व. अमर देव प्रसाद, संजीत कुमार पुत्र अजगुत प्रसाद, प्रमोद कुमार पुत्र दशरथ, जो अखबार का बंडल चौबेपुर सेंटर लेने घर से  निकले ही थे।
पंडापुर तिराहे के समीप अनियंत्रित कार पीछे से साइकिल सवार तीनों समाचार विक्रेताओं को रौंदते हुए आगे निकल गई। घटना स्थल पर शैल कुमार व संजीत कुमार दोनों की मौत हो गई। दोनों चचेरे भाई हैं। वहीं,प्रमोद कुमार गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे बजरिए एम्बुलेंस पुलिस ने ट्रामा सेंटर भेज दिया, जहां उसकी भी हालत गंभीर बनी हुई है।
घटना की सूचना मिलने पर आसपास के लोग हाइवे पर आ गए। गुस्साए ग्रामीणों ने हाइवे पर सुबह सवा 6 बजे से सवा 9 बजे तक हाइवे पर जाम लगा दिया।
घटना की सूचना मिलने पर सहायक पुलिस आयुक्त डॉ. एजीलर्सन, उपजिलाधिकारी सदर, आईपीएस सरवन, एसीपी सारनाथ अतुल अंजान, प्रभारी निरीक्षक विद्या शंकर शुक्ला भी पहुंचे ग्रामीणों की मांग पर उन्हें आर्थिक सहायता दिलाने, कार चालक को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ विधिक कार्रवाई का आश्वासन दिया तब जाम खत्म हुआ। पुलिस ने दोनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम रिपोर्ट के लिए भेज दिया।
एसीपी सारनाथ अतुल अंजान त्रिपाठी ने बताया कि हादसे को अंजाम देने वाली कार बलिया के अपर मुख्य अधिकारी की है, जो गाजीपुर के निवासी हैं। वाहन का रजिस्ट्रेशन उनकी पत्नी के नाम है। फिलहाल पुलिस चालक की तलाश कर रही है।

Comments

Popular posts from this blog

जौनपुर में चुनावी तापमान बढ़ाने आ रहे है सपा भाजपा और बसपा के ये नेतागण, जाने सभी का कार्यक्रम

अटाला मस्जिद का मुद्दा भी अब पहुंचा न्यायालय की चौखट पर,अटाला माता का मन्दिर बताते हुए परिवाद हुआ दाखिल

मछलीशहर (सु) लोकसभा में सवर्ण मतदाताओ की नाराजगी भाजपा के लिए बनी बड़ी समस्या,क्या होगा परिणाम?