पूर्वांचल विश्वविद्यालय: शिक्षणेत्तर कर्मचारी संघ ने किया ऐलान ए जंग, तो कुलपति ने चली चाल बाँट दिया दो गुटों में




जौनपुर । पूर्वांचल विश्वविद्यालय के कुलपति के कारनामों से नाराज विश्वविद्यालय का कर्मचारी संगठन शिक्षणेत्तर कर्मचारी संघ ने आन्दोलन की हुंकार भरा तो कुलपति ने कर्मचारियों को दो गुटों में विभाजित करने का कुचक्र रच डाला एक नया संगठन शिक्षणेत्तर कर्मचारी मोर्चा बनवा दिया है। ताकि कर्मचारी संगठन कमजोर करके अपने गलत कार्यो को अंजाम दे सके। हलांकि शिक्षणेत्तर कर्मचारी संघ ने ऐलान कर दिया है कि वह कर्मचारी हितो के कुलपति से दो दो हाथ करने को कमर कस लिया है। आज धरना प्रदर्शन किया जाना था लेकिन कुलपति एवं कुलसचिव दोनों आफिस नहीं आये इसलिए एक दिन के लिए रोक दिया गया है। 
इस सन्दर्भ में शिक्षणेत्तर कर्मचारी संघ के अध्यक्ष रामजी सिंह से वार्ता करने पर बताया कि हमारा संगठन काफी पुराना है और रजिस्टर्ड है विधिवत चुनाव के बाद हमारी कमेटी गठित है  हमारे साथ विश्वविद्यालय के सभी 410 कर्मचारियों का समर्थन प्राप्त है।  कुलपति प्रो राजा राम यादव के द्वारा अपनी मनमानी करने के लिए कुछ कर्मचारियों को उकसा कर एक संगठन बनवाया गया है जिसका रजिस्ट्रेशन तक नहीं है। 
उन्होंने कहा कि हमने अपने पत्रक में साफ कहा है कि किसी भी दशा में कर्मचारियों के खिलाफ कोई भी काम नहीं करने दिया जायेगा। कुलपति एवं कुलसचिव सहित वित्त अधिकारी को ज्ञापन दिया जा चुका है । वहीं कुलपति के रहम पर बने संगठन शिक्षणेत्तर कर्मचारी मोर्चा के लोगों ने जो पत्र कुलपति को दिया है उसमें साफ उल्लिखित है कि कुलपति कुछ भी करे संगठन उनके साथ है। गुटो में बंटे मोर्चा के अध्यक्ष से बात करने के लिए  उनके मोबाइल नंबर 9415255439  पर सम्पर्क किया लेकिन उनसे बात नहीं हो सकी क्योंकि उन्होंने काल रिसीव नहीं किया है। 
सवाल यह है कि कुलपति अपनी मनमानी कर लेगे या नहीं यह तो भविष्य के गर्भ में है लेकिन कर्मचारियों के बीच जो खाईं खड़ी की गयी है उसका दूरगामी परिणाम क्या होगा यह कर्मचारियों के लिए खासा चिन्ता का बिषय बना हुआ है। 

Comments

  1. ऐसा कुछ नही है कर्मचारी संघ के अध्यक्ष श्री रामजी सिंह है उनके नेतृत्व में कार्य हो रहा है

    ReplyDelete

Post a Comment

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद