न्यायालय से स्थगन के बाद भी जबरिया जंगल काटवा कर मार्ग बनाया जा रहा, नहीं सुनी जा रही ग्रामीणों की पीड़ा




  जौनपुर। जनपद में न्यायालय से स्थगन के बाद भी लोक निर्माण विभाग खण्ड दो के ( सीडी 2) द्वारा जबरिया जंगल काटवा कर मार्ग बनाया जा रहा है। जी हां शासन से स्वीकृत सड़क  विकास खण्ड सरकोनी स्थित रसैना मार्ग से सादीपुर  हरिजन बस्ती तक रोड प्रस्तावित है लेकिन प्रस्तावित स्थान पर रोड न बनकर एक व्यक्ति को लाभ पहुँचाने हेतु जंगल खाते की भूमि गाटा स० 1642 ख कुल रकबा 1.307 हे० पर जंगल  की कीमती लकड़ी जेसीबी मशीन से काटकर अधिशासी अभियंता लोकनिर्माण खण्ड 2 ( सीडी 2) एवं ठेकेदार की मिलीभगत से जंगल काटवा कर लगभग 400 मी० रोड पर मिट्टी डाली जा चुकी है जबकि जंगल से सटे बगल के चकदार के चक में सरकारी अभिलेख में  चकमार्ग है उस पर सड़क का निर्माण नहीं किया  जा रहा है I
 जबकि सर्वोच्च न्यायालय व उच्च न्यायालय के आदेश  है जंगल नहीं काटा जाना चाहिए।  आदेश में जंगल सुरक्षित रखने व पेंड़ लगाने के लिए कहा गया है I जंगल खाते की भूमि को जिलाधिकारी या राजस्व अधिकारी द्वारा रोड बनवाने के लिए प्रस्तावित नहीं की जा सकती है जैसा की माननीय सर्वोच्च न्यायालय व उच्च न्यायालय के आदेश में कहा गया है I जिसकी सुचना  मुख्यमंत्री जी सहित  लोकनिर्माण मंत्री जी उ०प्र० शासन लखनऊ, वन एवं पर्यावरण मंत्री जी उ०प्र० शासन लखनऊ, प्रमुख सचिव उ०प्र० शासन लखनऊ ,प्रमुख सचिव लोकनिर्माण उ०प्र० शासन लखनऊ आयुक्त वाराणसी मण्डल वाराणसी, जिलाधिकारी जौनपुर , अधिशासी अभियंता लोकनिर्माण खण्ड 2 (CD-2) जौनपुर  को सादीपुर के ग्रामीण जनो द्वारा भेजी जा चुकी है लेकिन अभी तक कोई कार्यवाही नहीं हुई है I    
 इससे ग्रामीण जन खासे नाराज भी है I साथ ही चेतावनी दी है कि जंगल काट कर बन रही सड़क को निर्धारित चकमार्ग से नहीं बनाया गया तो मजबूर हो कर  उच्च  न्यायालय में रिट याचिका दाखिल करने के लिए बाध्य होगे जिसकी समस्त जिम्मेदारी जिला प्रशासन  तथा अधिशासी अभियंता लोकनिर्माण खण्ड 2 (CD-2) जौनपुर व ठेकेदार की होगी I ग्राम वासियों द्वारा तमाम आवेदन पत्र जंगल खाते की भूमि पुराना गाटा स0 1037 व नया गाटा संख्या 1642 ख कुल रकबा 1.307 हे0 है जिसपर सिविल जज जूनियर डिवीज़न पंचम मु0स0 1300/98 पर स्थगन आदेश प्राप्त है जो आज तक प्रभावी है इसके बावजूद प्रशासन द्वारा जंगल खाते की भूमि पर बनी सड़क का कार्य रोक नही जा रहा है

Comments

Post a Comment

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

एंटी करप्शन टीम के हत्थे चढ़ा चपरासी ढाई लाख रुपए घूस ले रहा था चपरासी सहित एसीओ के खिलाफ मुकदमा दर्ज

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद