डीएम के निर्देश पर अस्पताल में कटा केक, आज जन्मी बेटियों का मना जन्मोत्सव



 जौनपुर। बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजनांतर्गत मिशन शक्ति अभियान के तहत लिंग समानता को समाप्त करने, बालिका जन्म दर को प्रोत्साहित करने, लड़के लड़की में भेद की समाज की मानसिकता को परिवर्तित करने हेतु जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा के निर्देशानुसार जिला महिला चिकित्सालय जौनपुर में बालिका जन्म उत्सव का आयोजन किया गया।
  कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिला प्रोवेशन अधिकारी संतोष कुमार सोनी ने कहा कि जो भी बच्चियां आज जन्म पाई हैं उन सभी को हम लोग बधाई देते हैं और हम लोगों का यह प्रयास और शासन की मंशा है कि जैसे समाज में लड़कों के जन्म पर खुशी मनाई जाती है वैसे ही लड़कियों के जन्म पर ही खुशी मनाई जाए। समाज की मानसिकता को परिवर्तित करने हेतु बालिका जन्मोत्सव सर्वाधिक रूप से मनाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के तहत अपना फार्म ऑनलाइन प्रथम श्रेणी हेतु कर सकती है जिसके तहत रु0 2000 उनकी माता के खाते में सरकार द्वारा प्रेषित किए जाएंगे, फिर 01 साल का टीका लगवाने के बाद दोबारा द्वितीय श्रेणी हेतु आवेदन करने पर रु0 1000 प्राप्त होगा, बालिका के कक्षा प्रथम में प्रवेश पर रु0 2000 मिलेगा, बालिका के कक्षा 06 में प्रवेश पर रु0 2000 मिलेगा, बालिका के कक्षा 09 में प्रवेश पर रु0 3000 मिलेगा, बालिका के हाई स्कूल के उपरांत 02 वर्ष से ऊपर का डिप्लोमा या इंटरमीडिएट के बाद स्नातक उसके समकक्ष या 2 वर्ष से ऊपर का डिप्लोमा में नामांकन कराने पर रु0 5000 की धनराशि प्राप्त होगी। इस प्रकार कुल रु0 15000 की धनराशि एक बेटी को प्राप्त होगी। इसके लिए फार्म ऑनलाइन किया जा सकता है।
  कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिला महिला चिकित्सालय के अधीक्षक अरुण कुमार जायसवाल ने कहा कि शासन की मंशा है कि अधिक से अधिक लोगों को सरकार की योजनाओं का लाभ पहुंचाया जाए। लड़के लड़की में कोई भी भेद नहीं है। आजकल लड़कियां हवाई जहाज भी उड़ा रही हैं। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि अपर पुलिस अधीक्षक नगर डॉक्टर संजय कुमार ने कहा कि शासन की मंशा के अनुसार मिशन शक्ति के तहत पुलिस विभाग द्वारा सभी थानों पर महिला एवं बाल हेल्पडेस्क का स्थापना की गई है जहां पर किसी भी महिला, बालिका, बच्चे को जाकर अपनी बात रखने में आसानी होगी, क्योंकि उनकी बात सुनने वाली महिला होगी, जो ज्यादा संवेदनशील होती है और अच्छे ढंग से बिठाकर, पानी पिलाकर उनकी बातों को सुनेगी। बालिका जन्मोत्सव एक सराहनीय कार्य है, हमें यहां आकर बहुत ही खुशी हो रही है।
  मुख्य अतिथि द्वारा जिला महिला चिकित्सालय में पैदा हुई बालिकाओं की खुशी में संयुक्त रूप से बालिकाओं एवं बालिकाओं की मां के साथ केक काटा गया। तत्पश्चात 50 नवजात बालिकाओं को हिमालया गिफ्ट पैक, कपड़े का सेट और गर्म तोलिया प्रदान किया गया। सभी बालिकाओं के परिवार वालों को बालिका जन्मोत्सव में केक व मिठाई खिलाकर खुशी मनाई गई।
कार्यक्रम में मुख्य रूप से बाल संरक्षण अधिकारी चन्दन राय, महिला कल्याण अधिकारी नीता वर्मा, जिला समन्वयक प्रतिभा सिंह एवं बबीता, सामाजिक कार्यकर्ता चंद्र प्रकाश शुक्ला, सुधा सोनकर, परामर्शदाता अवनीश मणि त्रिपाठी इत्यादि ने प्रतिभाग किया।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मुम्बई से आकर बदलापुर थाने में बैठी प्रेमिका, पुलिस को प्रेमी से मिलाने की दी तहरीर, पुलिस पर सहयोग न करने का आरोप

आइए जानते है कहां पर बारिश के दौरान आकाश से गिरी मछलियां, ग्रामीण रहे भौचक

पूर्वांचल की राजनीति का एक किला आज और ढहा, सुखदेव राजभर का हुआ निधन