लोन के बहाने रात को महिला को बैंक बुलाया अब जांच शुरू,जानें क्या है पूरी कहानी



उत्तर प्रदेश के मऊ जिले में रात में महिला को लोन देने के बहाने बैंक बुलाने का मामला सीएम कार्यालय तक पहुंच गया। जिसके बाद सीएम कार्यालय से आए रिमाइंडर के बाद अब जिले की पुलिस जांच में जुट गई है। इस मामले की जांच मोहम्मदाबाद गोहना के सीओ राजकुमार सिंह को सौंपी गई।
अजय चौरसिया ने शिकायत में बताया मुहम्मदबाद गोहला कस्बा के मोहल्ला कुतुबपुर स्थित एक बैंक में पत्नी ने लोन के लिए आवेदन किया था। सभी जरूरी कागजी कार्यवाही को पूरा करने के बाद भी बैंक के अधिकारियों द्वारा उसे कई दिनों तक दौड़ाया जाता रहा। हद तो तब हो गई जब पत्नी के मोबाइल नंबर पर रात में दो दिन तक लगातार बैंक प्रबंधक एवं कैशियर का फोन आया।
आधार और पैन कार्ड के साथ बुलाया
उन्होंने कहा कि आधार व पैन कार्ड लेकर बैंक में तुरंत आएं और अपने लोन का पैसा लेकर जाएं। फोन आने के दौरान मैं स्वंय मौजूद था। उसी वक्त मैं अपनी पत्नी को साथ लेकर दोनों पहचान पत्रों की फोटो कापी लेकर पहुंचा। कागजात लेने के बाद भी पैसे के लिए बात में बताने की बात कही।
मैं और पत्नी लगातार कहते रहे मगर अधिकारियों ने कुछ नहीं सुनी। उसी प्रकार से दूसरे दिन भी फोन किया। जिसके बाद हम नगर पंचायत वलीदपुर के ईओ नितेश गौरव से इसकी शिकायत की। वह स्वयं बैंक पहुंचकर बैंक प्रबंधन पर लापरवाही को लेकर नाराजगी जताई, जिसके बाद हमारा लोन पास हुआ। तब पैसा मिला। अजय ने इस पूरे मामले में बैंक कर्मियों की शिकायत मुख्यमंत्री पोर्टल पर किया। जिसके बाद जिला पुलिस को सीएम कार्यालय से रिमांइडर आया। और अब कार्रवाई जारी है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा ने पहले फेज के चुनाव हेतु प्रत्याशियों की जारी की सूची इन लगाया दांव

थाने में खड़ी गाड़ियां दीवान ने कबाड़ी को बेचीं, एसपी ने किया निलंबित, कबाड़ी भी गिरफ्तार

आइए जानते है मुन्ना बजरंगी के भाई को पुलिस ने क्यों किया गिरफ्तार