लायंस क्लब क्षितिज ने मातृ दिवस के अवसर पर वृद्ध आश्रम में माताओं को दिया वस्त्र व फल


 जौनपुर। जनपद की समाजसेवी संस्था लायंस क्लब क्षितिज ने प्रेमराजपुर स्थित वृद्ध-आश्रम में मातृ दिवस के अवसर पर बुजुर्ग माताओं को साड़ी व फल वितरित कर उनके चेहरों पर मुस्कान लाने की कोशिश की। इस अवसर पर कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रही लायनेस चेयर पर्सन चेतना साहू ने कहा माताओं की सेवा करके वह अपने आप को बहुत ही गर्व महसूस कर रही हैं। यह हमारे लिए बहुत ही सुखद क्षण है। लायनेस जोन चेयर पर्सन अर्चना सिंह ने अपने उद्बोधन में कहा कि मैं बहुत ही खुशनसीब हूं कि मुझे दो-दो माताओं का आशीर्वाद मिला। शादी के पहले मां का आशीर्वाद और शादी के बाद सासू मां का प्यार हमें सदैव मिलता रहा। जिसके कारण आज मैं यहां तक पहुंची हूं इस मातृ दिवस के अवसर पर मैं सभी माताओं को प्रणाम करती हूं और उम्मीद करती हूं कि आप लोगों का प्यार व आशीर्वाद सदैव यूं ही हमें मिलता रहे।
संस्थापक अध्यक्ष लायन शशांक सिंह रानू ने कहा कि यह हम सभी का सौभाग्य है व ईश्वर की कृपा है कि हम लोग आप सभी के बीच उपस्थित होकर आप सभी माताओं का आशीर्वाद प्राप्त करने का अवसर मिला। यदि आप लोगों को किसी भी प्रकार के सहयोग की आवश्यकता हो तो निःसंकोच हमसे कहें। हमारी संस्था उस कार्य को करने के लिए सदैव तत्पर रहेगी। जोन चेयर पर्सन दिलीप सिंह ने कहा कि माताएं हमारी पहली मार्गदर्शक व गुरु होती हैं। वह बहुत खुशनसीब होते हैं जिनके ऊपर यह ममता रूपी चादर सदैव सहारे के रूप में बनी रहती है। प्रथम उपाध्यक्ष लायन विष्णु सहाय  ने कहा कि माता का स्थान तो ईश्वर से भी ऊपर होता है और माता की तुलना किसी से नहीं की जा सकती है, वह अतुलनीय है। मैं उन सभी माताओं को प्रणाम करता हूं जिन्होंने अपने खून, पसीने व अपनी मेहनत से हम लोगों को यहां तक पहुंचने के काबिल बनाया। इस अवसर पर क्षेत्र के सभासद लायन जगदीश मौर्य गप्पू जी भी उपस्थित रहे उन्होंने आश्वासन दिया कि यदि कोई भी आवश्यकता हो तो निसंकोच कह सकते हैं मैं भरसक कोशिश करूंगा कि आप की आवश्यकताएं पूरी की जा सके। लायन धर्मेंद्र सेठ ने कहा कि माँ वह है जो हमें जन्म देती है, यही कारण है कि संसार में हर जीवनदायनी वस्तु को माँ की संज्ञा दी गयी है जैसे पृथ्वी मां हमें अन्न देती है, गंगा मां हमें जल देती है। यदि हमारे जीवन के शुरुआती समय में कोई हमारे सुख-दुख में हमारा साथी होता है तो वह हमारी माँ ही होती है। माँ हमें कभी इस बात का एहसास नही होने देती की संकट के घड़ी में हम अकेले हैं। मां का मतलब ही है प्यार व त्याग की मूर्ति। लायन सर्वेश जयसवाल ने सभी माताओं से आशीर्वाद प्राप्त किया व कहा की आप सभी माताओं का आशीर्वाद सदैव हम सभी पर बना रहे। लायंस क्लब क्षितिज के अध्यक्ष लायन जय कृष्ण साहू जैकी ने आए हुए सभी लोगों के प्रति आभार व्यक्त किया व सभी माताओं से आशीर्वाद प्राप्त किया और कहा मैं अध्यक्ष रहूं या ना रहूं हमारी संस्था सदैव आपकी जरूरतों को पूरी करने के लिए हर संभव मदद करती रहेगी। कार्यक्रम का सफल संचालन सचिव लायन प्रदीप सिंह ने किया। उन्होंने कहा की हमारी छोटी सी कोशिश से यदि आपके चेहरे पर थोड़ी सी भी मुस्कान आ पाई है तो इसके लिए हमारी संस्था स्वयं को बहुत गौरवान्वित महसूस कर रही है। इस सेवा कार्य में कोषाध्यक्ष लायन अजीत सोनकर, लायन कौशल त्रिपाठी, लायन अतुल चतुर्वेदी, लायन दीपक साहू, लायन सुनील कनौजिया, रवि चौबे, लायनेस सीमा सहाय, लायनेस उमा गुप्ता, लियो खुशी आदि लोग उपस्थित रहे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

अब से राशन मिलना बंद, पूरे 4 महीने के लिए लगी राशन पर रोक, जानें क्या है कारण

जौनपुर में शादी का झांसा देकर किशोरी से दुष्कर्म, मुकदमा दर्ज पुलिस जांच में जुटी

पूर्वांचल के रास्ते यूपी में जानें कब प्रवेश कर सकता है मानसून, भीषण गर्मी से मिलेगी निजात