मंहगाई की मार यात्रा से लेकर किचन तक ऐसी कि जीना हो गया दूभर


जौनपुर। पांच माह से लगातार बढ़ रहे पेट्रोल, डीजल और गैस सिलिंडर की कीमतों से लोगों का जीना दूभर हो गया है। दाम बढ़ने के कारण किचेन जहां फीका पड़ गया है, वहीं लोगों को वाहनों से यात्रा भी करना दुश्वार हो गया है। कारण इन पांच माह के भीतर पेट्रोल और डीजल में प्रति लीटर जहां 10-10 रुपये दाम बढ़े हैं, वहीं घरेलू गैस सिलिंडर के दाम में 100 रुपये और कामर्शियल सिलिंडर के दाम में 352 रुपये की बढ़ोत्तरी हुई है।
पेट्रोलियम वितरक समिति के अध्यक्ष प्रदीप कुमार सिंह ने बताया कि जनवरी में पेट्रोल का दाम 94 रुपये और डीजल का दाम 88 रुपये 50 पैसा था। इसके बाद अभी तक लगभग तीन से चार बार पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़े हैं। इस दौरान कभी 80 पैसा तो कभी 60 और 30 पैसे बढे़ हैं। जनवरी से अब तक पेट्रोल और डीजल के दाम में 10-10 रुपये की वृद्घि हुई है। इससे इस समय पेट्रोल 105 रुपये प्रति लीटर और डीजल 98 रुपये 50 पैसे प्रति लीटर की दर से बिक रहा है। वहीं, हरि सुभद्रा इंडेन गैस के अधिष्ठाता अवनीश सिंह उर्फ गौरव सिंह ने बताया कि जनवरी से अब तक घरेलू सिलिंडर के दाम में दो बार में 100 रुपये और कामर्शियल सिलेंडर के दाम में पांच बार में 372 रुपये की वृद्घि हुई है। इसके कारण जनवरी में घरेलू सिलिंडर का दाम जहां 964 रुपये था। वहीं, बढ़कर 1064 रुपये हो गया है। कामर्शियल सिलिंडर का दाम जहां 2141 रुपये था। वहीं, बढ़कर 2513 रुपये हो गया है।

जनवरी से मई तक मंहगाई की स्थित 

पेट्रोल - 94 -105 (रुपये प्रति लीटर)
डीजल - 88.50-98.50 (रुपये प्रति लीटर)
घरेलू सिलिंडर - 964- 1064 (रुपया प्रति सिलिंडर)
कामिर्शियल सिलंडर - 2141-2513 ( रुपया प्रति 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

भाभी को अकेला देख देवर की नियत हुई खराबा, जानें फिर क्या हुआ, पुलिस को तहरीर का इंतजार

घुस लेते लेखपाल रंगेहाथ गिरफ्तार, मुकदमा दर्ज कर एनटी करप्शन टीम ले गयी साथ

सिद्दीकपुर में चला सरकारी बुलडोजर मुक्त हुई 08 करोड़ रुपए मालियत की सरकारी जमीन