कूटरचना के जरिए सरकारी योजना का लाभ लेने और दलाल 07 के खिलाफ एफआईआर


जौनपुर। जनपद में श्रम विभाग द्वारा संचालित कन्या विवाह सहायता योजना का अनुचित लाभ लेने के लिए बिचौलियों का एक संगठित गिरोह सक्रिय है, जो अपात्रों को लाभ दिलाने के लिए फर्जी अभिलेख तैयार कर पैसा हड़पने के फिराक में थे। प्रभारी श्रम प्रवर्तन अधिकारी जूही मिश्रा ने शिकायत मिलने पर जब मामले की जांच कराई तो शिकायत सही मिली। जिस पर उन्होंने दो बिचौलिए सहित सात लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी, फर्जी दस्तावेज बनाने व सरकारी धन का बंदरबांट करने के आरोप में संगठित गिरोह के विरुद्ध थाना महराजगंज में मुकदमा पंजीकृत कराया है।
श्रम प्रवर्तन अधिकारी ने तहरीर में कहा है कि श्रम विभाग द्वारा चलाए जा रहे जनहित की योजनाओं में जैसे कन्या विवाह सहायता योजना के अंतर्गत 55 हजार रुपए श्रमिकों की पुत्रियों को शादी में दिए जाने का प्रावधान है। उक्त योजना में बिचौलिए, अपात्र एवं साधन संपन्न लोगों का गिरोह बनाकर शासकीय योजना का अनुचित एवं नियम विरुद्ध लाभ लेने का प्रयास किया है। उनके द्वारा कूटरचित आवश्यक अभिलेख तैयार कर आवेदन कराया जाता है। विभाग के अधिकारियों कर्मचारियों के नाम पर आवेदकों से 20 से 25 हजार रुपये की वसूली योजना का लाभ दिलाने के लिए की जाती है। शिकायत मिलने पर जांच करायी गयी पाया गया कि थाना क्षेत्र के भटौली निवासी बिचौलिया श्रीपति गौतम, सराय पड़री निवासी सुनील कुमार रावत इसके मुख्य सूत्रधार हैं। इन लोगों द्वारा फर्जी व कूटरचित जाली अभिलेख तैयार किया गया जिसमें से थाना क्षेत्र के घरवासपुर भटौली निवासी उर्मिला पत्नी रामलखन, बहाऊद्दीनपुर निवासी रीना पत्नी उमाशंकर का कार्य नियोजन प्रमाण पत्र की जांच की गई जो फर्जी पाया गया। जांच में यह भी पता चला कि ये निर्माण श्रमिक नहीं है, बल्कि गृहणी हैं। वहीं पति क्लीनिक चलाते हैं। बैहरी गांव निवासी मीरा देवी पत्नी रमेश चंद्र, सराय पड़री निवासी केदारनाथ द्वारा संत रविदास शिक्षा सहायता छात्रवृत्ति योजना में जाली व फर्जी अभिलेख लगाया है। अंगराह निवासी चंद्रभान ने भी इस योजना में फर्जी अभिलेख लगाया है। बिचौलिए व आवेदकों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया गया है। इस संबंध में प्रभारी श्रम प्रवर्तन अधिकारी जूही मिश्रा ने बताया कि शिकायत मिलने पर उक्त प्रकरण की जांच की गई थी। ऐसे में जांच में दोषी पाए जाने वालों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जफराबाद विधायक को हार्ट अटैक फस्टेड के बाद, मेदान्ता के लिए रेफर

जफराबाद विधायक का खतरे से बाहर डाॅ गणेश सेठ का सफल प्रयास, लगा पेस मेकर

योगी सरकार ने यूपी में आज फिर 12 आईएएस का तबादला, देखे सूची