सीएम योगी ने आज दस आईपीएस अधिकारियों का किया तबादला, कन्नौज के डीएम एसपी हटाये गये


उत्‍तर प्रदेश की योगी आद‍ित्‍यनाथ सरकार ने आज रव‍िवार सुबह भारतीय पुल‍िस सेवा (आइपीएस) के दस अफसरों का तबादला कर द‍िया है। इनमें से एक को अभी प्रतीक्षा में रखा गया है। वहीं शासन ने पांच आइएएस अधिकारियों के भी तबादले क‍िए हैं। चित्रकूट के जिलाधिकारी शुभ्रांत कुमार शुक्ला अब कन्नौज के डीएम होंगे। बरेली के नगर आयुक्त अभिषेक आनंद को चित्रकूट का डीएम बनाया गया है।
कन्‍नौज जिले में सांप्रदायिक माहौल बिगाड़ने की तीन बार कोशिश हुई, जिसमें अभी तक किसी एक की भी गिरफ्तारी नहीं हो सकी। प्रदेश सरकार ने इसे नाकामी मानते हुए जिलाधिकारी राकेश कुमार मिश्र और पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार श्रीवास्तव को हटाया है।योगी आद‍ित्‍यनाथ सरकार ने आइपीएस राजेश कुमार श्रीवास्‍तव को कन्‍नौज पुल‍िस अधीक्षक के पद से हटाकर प्रतीक्षा श्रेणी में डाल द‍िया है। वहीं कुंवर अनुपम स‍िंह को कन्‍नौज का नया कप्‍तान बनाया गया है।
आइपीएस बीके मौर्य को पुल‍िस महान‍िदेशक लाज‍िस्‍ट‍िक लखनऊ में नवीन तैनाती दी गई है। आइपीएस अनुपम कुलश्रेष्‍ठ को लखनऊ अपर पुल‍िस महान‍िदेशक यातायात सुरक्षा बनाया गया है। आइपीएस मोह‍ित अग्रवाल को अपर पुल‍िस महान‍िदेशक तकनीकी सेवाएं लखनऊ में तैनाती म‍िली है। आइपीएस भजनी राम मीना को लखनऊ में अपर पुल‍िस महान‍िदेशक रूल्‍स एवं मैनुअल बनाया गया है। आइपीएस शफीक अहमद का पुल‍िस अधीक्षक पीटीसी सीतापुर से तबादला कर प्रतीक्षारत की श्रेणी में भेजा गया है। आइपीएस राधेमोहन भारद्वाज को पुल‍िस अधीक्षक पीटीएस जालौन से सेनानायक 28वीं वाह‍िनी पीएसी इटावा बनाकर भेजा गया है। 
आइपीएस ह‍िमांशु कुमार को सेनानायक 28वीं वाह‍िनी पीएसी इटावा से हटाकर सेनानायक 23वीं वाह‍िनी पीएसी मुरादाबाद में नवीन तैनाती दी गई है। आइपीएस शाल‍िनी को सेनानायक 23वीं वाह‍िनी पीएसी मुरादाबाद से सेनानायक 41वीं वाह‍िनी पीएसी गाज‍ियाबाद भेजा गया है।
सचिव आबकारी निधि गुप्ता वत्स को बरेली के नगर आयुक्त पद पर तैनाती दी गई है। उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग के सचिव रहे जगदीश को विशेष सचिव आबकारी बनाया गया है। आयुक्त एवं अपर निबंधक (प्रशासन) सहकारिता खेमपाल सिंह को सचिव उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग के पद पर भेजा गया है।
पुलिस तथा प्रशासनिक सेवा में शीर्ष अधिकारियों के अपने मताहतों पर अवैध मतांतरण या फिर धार्मिक कार्यक्रम में शामिल होने का दबाव बनाने के प्रकरण पर योगी आदित्यनाथ सरकार बेहद सख्त है। उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम के अध्यक्ष रहे मोहम्मद इफ्तिखारुद्दीन को पद से हटाने के बाद अब एसपी पीटीसी सीतापुर शफीक अहमद का तबादला करने के बाद उनको प्रतीक्षा सूची में रखा गया है। इतना ही नहीं पुलिस प्रशिक्षण महाविद्यालय(पीटीसी) के एडीजी जकी अहमद के साथ सीओ नईमुल हसन पर भी जल्दी ही कार्रवाई हो सकती है।
सीतापुर के पुलिस प्रशिक्षण महाविद्यालय (पीटीसी) के एडीजी जकी अहमद और एसपी शफीक अहमद पर वहां के कर्मचारियों ने जय हिंद की जगह सलाम और आदाब अर्ज है, बोलने के लिए दबाव बनाने का आरोप लगाया है। इसके साथ ही इन दोनों तथा सीओ नईमुल हसन पर मतांतरण के लिए कर्मचारियों को प्रताडि़त करने का भी आरोप है। यह पीटीसी के चौकीदार विनोद कुमार और रसोइया कृष्ण शंकर गुप्ता ने लगाए हैं। इतना ही नहीं इन लोगों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी, राष्ट्रीय भ्रष्टाचार निवारण संगठन और डीएम पत्र भेजे हैं। इनके पत्र में जातिगत भेदभाव और मतांतरण का दबाव बनाने की बात कही गई है। एडीजी और एसपी ने इन कर्मचारियों के आरोपों को निराधार बताया है।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हर रात एक छात्रा को बंगले पर भेजो'SDM पर महिला हॉस्टल की अधीक्षीका ने लगाया 'गंदी डिमांड का आरोप; अधिकारी ने दी सफाई

यूपी कैबिनेट की बैठक में जौनपुर की इस नगर पालिका के विस्तार का प्रस्ताव स्वीकृत

जफराबाद विधायक का खतरे से बाहर डाॅ गणेश सेठ का सफल प्रयास, लगा पेस मेकर