बावरिया गिरोह के बदमाशो और पुलिस में मुठभेड़, गोलियों की तड़तड़ाहट में आठ बदमाश घायल


चंदौली जिले में पुलिस का ऑपरेशन लंगड़ा अभियान जारी है। इसी क्रम बुधवार की रात बावरिया गिरोह के बदमाशों संग डकैती की योजना बनाने के दौरान पुलिस की मुठभेड़ हो गई। इसमें कुल आठ बदमाश गोली लगने से घायल हुए हैं। सभी बदमाशों को पैर में गोली लगी है। घयालों को इलाज के लिए पंडित कमलापति त्रिपाठी संयुक्त अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं कुछ बदमाश अंधेरे का फायदा उठाकर भागने में सफल रहे। अन्य विधिक कार्रवाई जारी है।
पहली घटना सकलडीहा में हुई। इंस्पेक्टर को सूचना मिली कि बावरिया गिरोह के सदस्य बाजार से दूर एक स्थान पर शाम से ही अस्थायी छोपड़ी बनाकर रहते हैं। देर रात्रि के बाद घटना को अंजाम देते हैं। बुधवार रात को यह सभी भोजापुर रेलवे क्रासिंग से स्टेशन जाने वाले रास्ते पर देशी शराब की दुकान के पास बगीचे में रुके थे। इसकी जानकारी इंस्पेक्टर राजीव प्रताप सिंह ने पुलिस अधीक्षक को दी। 
सूचना का संज्ञान लेते हुए पुलिस अधीक्षक डॉ. अनिल कुमार ने सभी की घेराबंदी के लिए सदर व सैयदराजा पुलिस को मदद के लिए लगा दिया। जब टीम बगीचे के पास पहुंचकर सड़क से बगीचे के लिए अलग- अलग दिशा से पहुंचने के उतर रही थी। इस बात का अंदाजा लगते ही सभी भागने लगे। वहीं दर्जनों की संख्या में टॉर्च व असलहे के साथ पुलिस की टीम देखकर उसमें से कुछ ने असलहे से हवाई फायरिंग शुरू कर कर दी। 
इसके बाद पुलिस की जवाबी कार्रवाई में अलग-अलग स्थान पर कुल चार सदस्य पुलिस की गोली से घायल होकर गिर पड़े। जबकि कुछ दूर रेलवे ट्रैक के रास्ते भागने में सफल हो गए। सभी घायलों को सीएचसी सकलडीहा में भर्ती कराया। जहां से सभी को पंडित कमलापति त्रिपाठी संयुक्त जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। जिसमें बाबू सिंह काकू, बिजेंद्र, महेंद्र, लालू सभी थाना मिलकिया शाहजहांपुर के रहने वाले है। वहीं सकलडीहा इलाके में हुई मुठभेड़ की घटना के बाद पुलिस टीम फरार अन्य बदमाशों की तलाश में जुट गई।
दूसरी घटना मुगलसराय-अलीनगर पुलिस की काम्बिंग के दौरान कैली रिंग रोड पर भी पुलिस और बदमाशों की मुठभेड़ हुई। बदमाशों ने पुलिस से बचने व भागने की फिराक में फायरिंग झोंक दी। गोली अलीनगर इंस्पेक्टर की गाड़ी में लगी। जिसके जवाब में पुलिस टीम की फायरिंग में चार बदमाश घायल हो गए। जबकि दो बदमाश अंधेरे का फायदा उठाकर भागने में कामयाब रहे। जानकारी के बाद मौके पर सीओ अनिरुद्ध सिंह पहुंचकर घटना की जानकारी लिए।
घायलों में पर्वत गोसाई, बाबू गोसाई, मोहनपाल, महिपाल सभी शाहजहां निवासी है। बता दें कि 10 जनवरी को अलीनगर थाना क्षेत्र के पंचफेडवा जीटी रोड पर एक आवासीय दुकान में दर्जनों की संख्या में घुसे लुटेरों ने दुकानदार के जगने पर मारपीट कर घायल कर दिया था। जिसकी जानकारी के बाद पुलिस अधीक्षक सहित अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल किया। 
एसपी अनिल कुमार ने घटना अनावरण के लिए टीम गठित कर दिया था। पुलिस बावरिया गिरोह मानकर जांच कर रह थी। बताया जा रहा है कि यह गैंग नवंबर माह से ही जनपद में डेरा डालकर अलग- अलग क्षेत्र में रेकी कर रहे थे। बदमाशों ने बताया कि पिछले तीन दिनों से सकलडीहा बाजार में बड़ी दुकानों की रैकी कर रहे थे। दिन में कागज व कपड़े से बने फूलों को बेचने के बहाने रेकी करते थे।
पुलिस अधीक्षक डॉ अनिल कुमार का बयान है कि जनपद के अलीनगर व सकलडीहा में हुई अलग- अलग पुलिस मुठभेड़ में आठ बदमाश गोली लगने से घायल हुए हैं। ये सभी दिन में रेकी करते थे बुधवार की रात घटना को अंजाम देते थे। इनके द्वारा पूर्व में पचाफेडवा में घटना कारित की गई थी। सभी पंडित कमलापति त्रिपाठी संयुक्त जिला अस्पताल में भर्ती कराए जाने के साथ ही अग्रिम विधिक कार्रवाई प्रचलित है। जल्द ही अन्य आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Comments

Popular posts from this blog

डीएम जौनपुर ने चार उप जिलाधिकारियों का बदला कार्यक्षेत्र जानें किसे कहां मिली नयी तैनाती देखे सूची

पुलिस भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले में जौनपुर की अहम भूमिका एसटीएफ को मिली,जानें कहां से जुड़ा है कनेक्शन

जौनपुर में आधा दर्जन से अधिक थानाध्यक्षो का हुआ तबादला,एसपी ने बदला कार्य क्षेत्र