जानिए जिला प्रशासन ने कहां पर डिजिटल लाइब्रेरी खोलने का लिया है निर्णय



जौनपुर। गांवों व वार्डों में सार्वजनिक डिजिटल लाइब्रेरी खोलने की तैयारी है। पहले चरण में 288 ग्राम पंचायत और नगर निकायों के 28 वार्डों में केंद्र खोले जाएंगे। आबादी के हिसाब से बड़े ग्राम पंचायतों को प्राथमिकता दी जाएगी। प्रति केंद्र पर करीब चार लाख रुपये खर्च किए जाएंगे। इसके लिए डीएम की अध्यक्षता में पांच सदस्यीय समिति गठित कर दी गई है। इसमें सीडीओ नोडल अधिकारी, डीआईओएस सचिव, बीएसए, जिला पंचायत राज अधिकारी, अधिशासी अधिकारी बतौर सदस्य शामिल है। प्रशासन के मुताबिक अगले सप्ताह से लाईबेरी के लिए ग्राम पंचायतों और वार्डों में स्थान चयन की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। अधिकारियों ने बताया कि गांवों में ग्राम पंचायत सचिवालय में केंद्र खोले जाएंगे। जहां सचिवालय नहीं हैं, वहां प्राथमिक व पूर्व माध्यमिक विद्यालयों में लाइब्रेरी का संचालन कराया जाएगा। स्थान चयन के बाद बजट जारी होगा। बताया कि वर्ष 2024 में 316 लाइब्रेरी बनाने का लक्ष्य रखा गया है।
अधिकारियों ने बताया कि केंद्र आधुनिक सुविधाओं से लैस होगा। इसमें पुस्तकों के साथ एलईडी टीबी लगाई जाएंगी। बताया कि केंद्र में संसाधन के लिए बजट निर्धारित है। इसमें प्रति केंद्र पर स्मार्ट एलईडी टीवी 32 इंच पर 25 हजार, दो टैबलेट डिवाइस पर 30 हजार, नेटवर्किंग व डिजिटल इंफ्रास्ट्रक्चर पर 25 हजार, एक लाख रुपये फर्नीचर और वायरिंग पर खर्च किए जाएंगे।
सीडीओ सांई सीलम तेजा की माने तो प्रथम चरण में 288 ग्राम पंचायत के साथ नगर निकायों के 28 वार्डों में डिजिटल लाइब्रेरी खोले जाएंगे। इसके लिए समिति गठित कर दी गई है। आबादी के हिसाब से बड़े ग्राम पंचायत को प्राथमिकता दी जाएगी। एक सप्ताह से स्थान चयन की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। 

Comments

Popular posts from this blog

डीएम जौनपुर ने चार उप जिलाधिकारियों का बदला कार्यक्षेत्र जानें किसे कहां मिली नयी तैनाती देखे सूची

पुलिस भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले में जौनपुर की अहम भूमिका एसटीएफ को मिली,जानें कहां से जुड़ा है कनेक्शन

जौनपुर में आधा दर्जन से अधिक थानाध्यक्षो का हुआ तबादला,एसपी ने बदला कार्य क्षेत्र