संदिग्ध परिस्थितियों में अधिवक्ता लापता,पुलिस तलाश में जुटी, दस दिन बाद भी सुराग नहीं मिला




जौनपुर। जनपद के थाना बक्शा क्षेत्र स्थित ग्राम अगरौरा मूल निवासी एवं इलाहाबाद हाई कोर्ट बार एसोसिएशन के पूर्व वरिष्ठ उपाध्यक्ष मंगला प्रसाद तिवारी (60) संदिग्धावस्था में गायब हो गए हैं। उनके परिवार के लोगों ने हर संभावित स्थानों पर उन्हें तलाशा। जब उनका पता नहीं चला तो प्रयागराज के कर्नलगंज थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस पता लगाने के लिए उनके घर के आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाल रही है। हालांकि अभी तक सुराग नहीं लग सका है।

बता दे जौनपुर जिले के बक्शा थानांतर्गत अगरौरा के रहने वाले मंगला प्रसाद तिवारी कर्नलगंज के छोटा बघाड़ा में किराए के मकान में अकेले रहते हैं। उनका परिवार जौनपुर गांव में रहता है। गत तीन जनवरी को उनका पुत्र मनोज उनसे मिलने गया तो दरवाजा में ताला लगा था। फोन मिलाया तो वह भी बंद था। ताला तोड़कर वह कमरे में गया तो मोबाइल बिस्तर पर बंद पड़ा था। इसकी सूचना उसने अपने स्वजनों और नात-रिश्तेदारों को दी। इसके बाद सभी संभावित स्थानों पर उनकी तलाशी की गई। काफी खोजबीन के बाद भी उनका कुछ पता नहीं चला। इसके बाद मनोज ने थाने में तहरीर देकर गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

भाभी को अकेला देख देवर की नियत हुई खराबा, जानें फिर क्या हुआ, पुलिस को तहरीर का इंतजार

घुस लेते लेखपाल रंगेहाथ गिरफ्तार, मुकदमा दर्ज कर एनटी करप्शन टीम ले गयी साथ

सिद्दीकपुर में चला सरकारी बुलडोजर मुक्त हुई 08 करोड़ रुपए मालियत की सरकारी जमीन