जांचोपरान्त गैस एजेन्सियों के खिलाफ ज्वाइंट मजिस्ट्रेट हिमांशू नागपाल ने की यह कड़ी कार्रवाई


 

जौनपुर। ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/उप जिलाधिकारी सदर हिमांशु नागपाल ने सर्वसाधारण को अवगत कराया है कि जनपद-जौनपुर में तहसील-सदर के अन्तर्गत गैंस एजेंसियो द्वारा एल0पी0जी0 गैस सिलेण्डरों में की जा रही घटतौली आदि के संबंध में उपभोक्ताओं के स्तर से प्राप्त हो रही शिकायतों के क्रम में गैंस एजेंसियो की जांच हेतु नायब तहसीलदार, क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी, बाट-माप निरीक्षक व पूर्ति निरीक्षकों की टीम गठित करके गैंस एजेंसियों की जांच करायी गयी। उक्त टीम द्वारा 04 फरवरी 2022 को मे0 जौनपुर गैंस सर्विस लाइन बाजार जौनपुर, हरि सुभद्रा इण्डेन गैंस सर्विस उमरपुर जौनपुर एवं प्राइम इण्डेन गैंस एजेन्सी वाजिदपुर तिराहा जौनपुर के गोदाम का निरीक्षण/जांच की गयी और अपनी जांच आख्या प्रस्तुत की गयी। जांच के पायी गयी अनियमितताओं के क्रम में उक्त गैंस एजेंसियो को आरोप-पत्र जारी कर उनसे स्पष्टीकरण मांगा गया। तत्क्रम में उक्त गैंस एजेंसियों द्वारा अपना स्पष्टीकरण 11 फरवरी 2022 को प्रस्तुत किया गया। गैंस एजेंसियो पर लगाये गये आरोप एवं आरोपों के संबंध एजेंसियो द्वारा प्रस्तुत स्पष्टीकरण का परीक्षण उक्त गठित टीम से कराया गया। उक्त टीम द्वारा जांच करके अपनी आख्या 22 अप्रैल 2022 प्रस्तुत की गयी है।
उक्त जांच में यह पाया गया कि गैस एजेंसियो द्वारा गोदाम पर निरीक्षण के समय स्टॉक बोर्ड अद्यावधिक भरा नहीं पाया गया, सूचना-पट्ट प्रदर्शित नहीं पाया गया। अग्निशमन यंत्र प्रमाणित व अद्यावधिक नहीं पाया गया, मैनुअल व डिजिटल वेययिंग मशीन क्रियाशील नहीं पाई गई, सिलेण्डरों के तौल में घटतौली पाई गई, 10 प्रतिशत सिलेण्डरों को तौल कर गैंस एजेंसियो द्वारा नहीं रखा जा रहा है। कार्यरत हॉकरों की आई0ओ0सी0एल0 से प्रमाणित सूची उपलब्ध नहीं कराई गई व अन्य वांछित अभिलेख प्रस्तुत नहीं किए गए। उज्जवला गैस कनेक्शनधारियों की सूची उपलब्ध नहीं कराई गई। उक्त गैंस एजेंसियो के स्टाक का सत्यापन कराया गया। स्टाक सत्यापन में गैंस एजेंसियो पर 14.02 किग्रा0 घरेलू गैंस सिलेण्डरों व 19.00 किग्रा कार्मिशल सिलेण्डर का स्टाक कम/अधिक पाया गया। गैंस एजेंसियो द्वारा 05.00 कि0ग्रा0 के सिलेण्डरों को स्टॉक रजिस्टर में दर्ज नहीं किया गया है और अनाधिकृत रूप से गोदाम में भण्डारित कर 05.00 कि0ग्रा0 के सिलेण्डर दुरूपयोग के नियत से भण्डारित किया जाना पाया गया है।
गैंस एजेंसियो पर जो सिलेण्डर कम/अधिक पाये गये उसके संबंध में गैंस एजेंसियो द्वारा कोई संतोष जनक उत्तर नहीं दिया गया है, बल्कि गोल-मोल उत्तर दिया गया है। इसी प्रकार अन्य बिन्दुओं पर जो स्पष्टीकरण प्रस्तुत किया गया है। वह संतोषजनक नहीं पाया गया है। गैंस एजेंसियो पर लगाये गये अधिकाशः आरोप प्रमाणित पाये गये। तत्क्रम में उक्त गैंस एजेंसियो के विरूद्ध कार्यवाही हेतु विक्रय प्रबंधक, आई0ओ0सी0एल0 एलपीजी वाराणसी डिविजनल ऑफिस एन0एच0-31, बाबतपुर रोड,पोस्ट-हरहुआ, जनपद-वाराणसी व नीरज कुमार, एरिया विक्रय प्रबंधक (एल0पी0जी0), आई0ओ0सी0एल0, जनपद-जौनपुर को पत्र प्रेषित किया गया है। ऑयल कम्पनी द्वारा एल0पी0जी0 गाइड लाइन के अनुसार उक्त गैंस एजेंसियों के विरूद्ध नियमानुसार कठोर विभागीय कार्यवाही की जा रही है।  

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

भाभी को अकेला देख देवर की नियत हुई खराबा, जानें फिर क्या हुआ, पुलिस को तहरीर का इंतजार

घुस लेते लेखपाल रंगेहाथ गिरफ्तार, मुकदमा दर्ज कर एनटी करप्शन टीम ले गयी साथ

सिद्दीकपुर में चला सरकारी बुलडोजर मुक्त हुई 08 करोड़ रुपए मालियत की सरकारी जमीन