जालसाज सरगना दिलीप राय बलवानी की खुली हिस्ट्रीशीट,जीवन भर थाने से होगी निगरानी

जौनपुर। जनपद मूल के निवासी दिलीप राय बलवानी नामक जालसाज को विगत सात मई को उत्तर प्रदेश एसटीएफ ने गिरफ्तार किया था 
। दिलीप राय बलवानी के खिलाफ कार्रवाई करते हुए जिले की पुलिस ने पूरी जन्मकुण्डली खंगाल डाली । पुलिस के अनुसार उसके ऊपर जौनपुर,लखनऊ और उरई जिले में एक दर्जन से अधिक मुकमदें दर्ज है। इसमें सबसे अधिक फ्राड और जालसाजी का है। बलवानी के ऊपर आरोप है उसने नौकरी दिलाने के नाम पर बेरोजगारों को ठगा है। जिसकी हिस्ट्रीशीट खुलती है जीवन भर रहती है। हिस्ट्रीशीटर अभियुक्त की निगरानी हेतु विशेष पुलिस टीम का गठन किया जाता है। हिस्ट्रीशीटर को गृह क्षेत्र के थाने में जाकर हाजिरी देनी पड़ती है। ऐसा भी होता है हिस्ट्रीशीटर दूसरे शहर में जाकर रह रहा हो तो उसके रिकार्ड को वहां भेजा जाता है ताकि उसकी गतिविधि पर वहीं निगाह रखी जा सके।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय साहनी के निर्देश पर जनपद जौनपुर, लखनऊ, उरई में पंजीकृत ठगी के मुकदमें से संबंधित सक्रिय अपराधी दिलीप राय बलवानी की निगरानी हेतु थाना सिकरारा में हिस्ट्रीशीट खोलने की कार्रवाई की गयी। दिलीप राय बलवानी पुत्र श्यामबली निवासी ग्राम डमरुआ थाना सिकरारा जनपद जौनपुर सचिवालय में विभिन्न पदों पर सरकारी नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने का काम करता है इनके साथ इनका भाई मंजीत काफी समय से सैकड़ों लोगों से सरकारी नौकरी लगवाने के नाम पर धोखाधड़ी करके पैसा लेते हैं जिस लोगों द्वारा पैसा दिया जाता है तथा नौकरी दिलाने का ज्यादा दबाव बनाया जाता है तो फर्जी नियुक्ति पत्र दे देते हैं, इस तरह के काम में कई बार जेल जा चुके हैं, नियुक्ति पत्र मंजीत बनावाता है। दिलीप राय बलवानी फोटो एडिट कर बड़े-बड़े लोगों के साथ अपनी फोटो बनाते हैं जिसे दिखा कर अपना रुतबा तथा लोगों को विश्वास दिलाकर ठगने का काम करते हैं, इनके द्वारा सैकड़ों लोगों के साथ ठगी का काम किया गया है। बीते 7 मई को एसटीएफ उत्तर प्रदेश द्वारा दिलीप राय को विभूति खंड थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया है। 
एसपी के अनुसार दिलीप राय बलवानी एक शातिर अभियुक्त हैं जिनके विरुद्ध दो दर्जन से ज्यादा मुकदमे पंजीकृत हैं। थानाध्यक्ष सिकरारा द्वारा हिस्ट्रीशीटर की निगरानी हेतु पुलिस टीम का गठन किया गया है व जिस जिस थाने में मुकदमा पंजीकृत है रिकार्ड को वहां भेजा जा रहा है ताकि गतिविधि पर वहीं निगाह रखी जा सके। 

दिलीप राय बलवानी पुत्र श्यामबली निवासी ग्राम डमरुआ थाना सिकरारा जनपद जौनपुर का अपराधिक इतिहास निम्न है। 

1.मु0अ0सं0-92/21 धारा-323 504 506 325 भादवि थाना सिकरारा जनपद जौनपुर ।

2.मु0अ0सं0-230/16 धारा-406 420 506 भादवी थाना हजरतगंज लखनऊ।

3.मु0अ0स0-967/16 धारा-406 420 506 419 420 467 468 471 भादवी थाना गोमती नगर लखनऊ।

4.मु0अ0सं0-379/17 धारा-406 420 भादवि थाना वजीरगंज लखनऊ।

5.मु0अ0सं0- 274/17 धारा-406 419 420 467 468 471 506 भादवि थाना हुसैनगंज लखनऊ।

6.मु0अ0सं0-665/17 धारा-406 419 420 467 468 471 504 भादवि थाना कोतवाली उरई।

7.मु0अ0सं0-442/17 धारा-406 420 467 468 471 भादवि थाना कोतवाली उरई।

8.मु0अ0सं0-842/17 धारा-406 420 467 468 471 भादवि थाना कोतवाली उरई।

9.मु0अ0सं0-550/20 धारा-406 420 भादवि थाना विभूति खंड लखनऊ।

10.मु0अ0सं0-339/22 धारा-406 420 506 भादवि थाना गोमती नगर लखनऊ।

11.मु0अ0सं0-248/22 धारा-406 420 भादवि थाना विभूतिखंड लखनऊ।

12.मु0अ0सं0-250/22 धारा-406 420 471 भादवि थाना विभूतिखंड लखनऊ।

13.मु0अ0सं0-251/22 धारा-406 420 467 468 471 भादवि थाना विभूतिखंड जनपद लखनऊ।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जौनपुर का बेटा बना यूनिवर्सिटी आफ टोक्यो जापान में प्रोफ़ेसर, लगा बधाईयों का तांता

इलाहाबाद हाईकोर्ट का ग्रामसभा की जमीन को लेकर डीएम जौनपुर को जानें क्या दिया आदेश

यूपी में फिर 11 आईएएस अधिकारियों का तबादला, देखे सूची