परिषदीय स्कूलो के 20,696 लापरवाह शिक्षको पर कार्यवाई,अब ग्रामीण क्षेत्र के विद्यालयो में होगी जांच


यूपी में परिषदीय स्कूलों में शिक्षकों की समय पर उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिए 18 जुलाई से लेकर 20 अक्टूबर 2022 तक चलाए गए विशेष जांच अभियान में 20,696 शिक्षकों पर कार्रवाई की गई है। इन लापरवाह शिक्षकों के मामले में की गई कार्रवाई से महानिदेशक, स्कूल शिक्षा विजय किरन आनंद को 30 नवंबर तक अवगत कराना होगा। वेतन काटने सहित अनुशासनहीनता में हुई कार्रवाई की रिपोर्ट देनी होगी। वहीं इस अभियान में 3,805 स्कूल ऐसे हैं, जिनका निरीक्षण नहीं हो पाया है।
ऐसे मे एक नवंबर 2022 से लेकर 30 नवंबर 2022 तक छूटे हुए दूर-दराज के स्कूलों की विशेष जांच की जाएगी। सभी जिलों के बेसिक शिक्षा अधिकारियों (बीएसए) को निर्देश दिए गए हैं कि नवंबर महीने में स्कूलों में शिक्षकों की उपस्थिति की जांच के लिए सभी खंड शिक्षा अधिकारियों (बीईओ) व जिला समन्वयकों को सुबह छह बजे कार्यालय बुलाया जाए और उन्हें दूरस्थ विकास खंडों के स्कूलों की सूची सौंपी जाए।
चार-चार विकास खंडों के स्कूलों की सूची लेकर उनकी जांच करेंगे और आनलाइन रिपोर्ट महानिदेशक, स्कूल शिक्षा कार्यालय को देंगे। आमतौर पर जिलें में सबसे दूर-दराज स्थित स्कूलों की जांच नहीं हो पाती। यही कारण है कि 3,805 स्कूलों में निरीक्षण नहीं हो पाया। अबकी नवंबर में दूर-दराज स्थित स्कूलों पर विशेष नजर रखी जाएगी। ऐसे बीईओ जो शिक्षकों को बेवजह परेशान करेंगे तो शिकायत होने पर जांच के आधार पर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जानिए मुर्गा काटने के दुकान से कैसे मिला गुड्डू की लाश,पुलिस कर रही है जांच

बिजली विभाग बड़े बकायेदारो से बिल की वसूली कराये - डीएम जौनपुर

मंत्री गिरीश चन्द यादव का अखिलेश यादव पर जबरदस्त पलटवार,दे दिया केन्द्रीय मंत्री बनाने का आफर