पूर्वांचल विश्वविद्यालय के फार्मेसी भवन में दो दिन बाद चपरासी की लाश मिलने से सनसनी



जौनपुर। पूर्वांचल विश्वविद्यालय के फार्मेसी भवन के कमरे में विश्वविद्यालय के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी बशिष्ट नरायन सिंह की लाश मिलने से विश्वविद्यालय प्रशासन को ही सवालों के कटघरे में खड़ा करता है मौत का कारण जो भी हो लेकिन चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी की लाश 48 घन्टे बाद विश्वविद्यालय को पता चलना लापरवाही पूर्ण व्यवस्था का संकेत करता है।
मिली जानकारी के अनुसार बशिष्ट नरायन सिंह दो दिन से अपने घर नहीं गया था और उसकी मोटरसाइकिल फार्मेसी भवन में खड़ी थी। फार्मेसी भवन पर 24 घन्टे गार्ड की ड्यूटी रहती है इसके बाद भी विश्वविद्यालय प्रशासन को कोई भनक घटना की नहीं लगी इसका क्या मायने निकाले जाये यह सबसे बड़ा सवाल है सूत्र बताते है कि दो दिन तक कर्मचारी के बाबत घर फोन किया गया तो पता चला कि दो दिन से घर आया ही नहीं है तब उसकी मोटरसाइकिल फार्मेसी भवन के पास होने पर खोजबीन किया गया तो उसकी लाश फार्मेसी भवन के एक कमरे में पड़ी मिली इसके बाद विश्वविद्यालय प्रशासन के बीच हडकंप मच गया। 
लाश की खबर थाना सरायख्वाजा पुलिस को मिलने के बाद लाश को पोस्ट मार्टम के लिए भेज दिया गया है पुलिस पोस्ट मार्टम रिपोर्ट के बाद इस मामले में कुछ कहने की स्थित में स्वयं को पा रही है। यहां एक सवाल यह भी है कि 24 घन्टे बाद लाश से दुर्गन्ध आने लगती है लेकिन यहां किसी को दुर्गन्ध भी नहीं मिली क्यों? दो दिन से मोटरसाइकिल खड़ी थी फिर भी किसी ने पता करने की जरूरत क्यों नहीं महसूस किया। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा ने पहले फेज के चुनाव हेतु प्रत्याशियों की जारी की सूची इन लगाया दांव

यूपी: भाजपा ने जारी किया पहले और दूसरे चरण में चुनाव के प्रत्याशियों की सूची,योगी जी लड़ेंगे गोरखपुर से ,देखे सूची

जौनपुर में बसपा को जोर का झटका करीने से, डॉ जेपी सिंह ने सुभासपा किया ज्वाइन