सरकार का आदेश जारी अब शिक्षकों का होगा स्थानांतरण, जानें क्या बनी है नीति



प्राइमरी के शिक्षकों के लिए राहत भरी खबर है ,अब 1 साल के अंदर शिक्षकों के पारस्परिक ट्रांसफर हो जाएंगे। इस तबादले की मांग शिक्षक काफी टाइम से मांग कर रहे थे, लेकिन अब शासन इन लोगों के तबादले 1 साल के अंदर कर देंगे। जिले के अंदर अब दो चरणों में तबादले होंगें। पहले शिक्षकों की मांग वाले ट्रांसफर किये जायेंगे। उसके बाद समायोजन होगा। इसके लिए अगस्त से ही आवेदन की योजना है। बीते दिनों बेसिक शिक्षा विभाग की बैठक में फैसला लिया गया है। 10 हजार शिक्षकों ने आवेदन किया था बेसिक शिक्षा राजमंत्री सतीश चंद्र की अध्यक्षता में हुई बैठक में ये निर्णय लिया गया है । इसमें एक वर्ष की सेवा अवधि वाली शिक्षिकाओं व तीन वर्ष की सेवा अवधि वाले शिक्षकों के भी तबादले हो सकेंगे। पिछले साल सरकार ने अंतर्जनपदीय तबादलों में पारस्परिक सहमति से ट्रांसफर भी किये थे। इसमें लगभग 10 हजार शिक्षकों ने आवेदन किया था। इसमे तबादले के लिए निर्धारित पात्रता दोनों शिक्षकों पर मान्य होगी। इसके अनुसार एक समान काडर के शिक्षक आपसी सहमति से पारस्परिक तबादले ले सकेंगे। ये तबादले ऑफलाइन किये जायेंग। इन ट्रांसफर से कई शिक्षकों को फायदा होगा, जो अपने घर के पास जाना चाहते है। 

पहले चरण में अगस्त में ही शिक्षकों से आवेदन लेकर अंतर्जनपदीय स्थानांतरण किया जाए। उन्होंने जिले के अंदर आवेदन के आधार पर स्थानांतरण जल्द करने के निर्देश दिए हैं। निर्धारित समय के बाद प्राप्त होने वाले आवेदन पत्रों पर मंत्री की अनुमति से स्थानांतरण किया जा सकेगा। इसकी प्रक्रिया ऑनलाइन होगी, लेकिन विशेष परिस्थिति में मुख्यमंत्री और विभागीय मंत्री की अनुमति से ऑफलाइन भी स्थानांतरण किया जा सकेगा। द्वितीय चरण में नियमावली में प्रस्तावित संशोधनों पर मंत्रिपरिषद का अनुमोदन के बाद समायोजन किए जाएंगे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

अब से राशन मिलना बंद, पूरे 4 महीने के लिए लगी राशन पर रोक, जानें क्या है कारण

पूर्वांचल के रास्ते यूपी में जानें कब प्रवेश कर सकता है मानसून, भीषण गर्मी से मिलेगी निजात

सीएम योगी के एक ट्वीट से लखनऊ का नाम बदलने की सुगबुगाहट, जानें क्या हो सकता है नया नाम