कागजी बाजीगरी तक सीमित रही विधान परिषद संसदीय सामाजिक सद्भाव समिति की बैठक,जानें क्या हुए निर्देश

जौनपुर। विधान परिषद की संसदीय एवं सामाजिक सद्भाव समिति की बैठक सभापति आशुतोष सिन्हा की अध्यक्षता एवं सदस्य लाल बिहारी यादव एवं सुरेंद्र चौधरी की उपस्थिति में कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न हुई।
समिति की बैठक में सभापति द्वारा एआरटीओ को निर्देशित किया गया कि ओवरलोडिंग एवं बिना परमिट की ट्रकों पर अंकुश लगाने के लिए एक टीम बनाकर प्रभावी कार्यवाही की जाए।आबकारी अधिकारी को निर्देशित किया कि राजस्व संग्रह के संदर्भ में लक्ष्य के अनुरूप प्रगति लाएं। अधिशासी अधिकारी नगर पालिका संतोष मिश्रा को निर्देशित किया कि जनपद में किन-किन क्षेत्रों में साफ-सफाई की गई है इसकी सूचीवार विस्तृत रिपोर्ट उपलब्ध कराये। अधिशासी अभियंता विद्युत ए0के0 सिंह को निर्देशित किया कि ट्रांसफार्मर खराब होने पर निर्धारित समय के भीतर खराब ट्रांसफार्मर बदलवा सुनिश्चित करें।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ0 लक्ष्मी सिंह को निर्देशित किया कि सभी सीएचसी और पीएचसी पर एंटीवेनम इंजेक्शन अनिवार्य रूप से उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें और जितनी भी दवाइयां अस्पतालों में उपलब्ध है उनकी सूची अस्पतालों में प्रदर्शित की जाए तथा जो दवाइयां उपलब्ध नहीं हैं उसकी सूची शासन को उपलब्ध कराई जाये, जिससे ससमय दवाईया अस्पतालों में उपलब्ध हो सके।


सभापति के द्वारा निर्देशित किया गया कि चकमार्ग काटने वालों के विरुद्ध कठोर कार्यवाही की जाए। सभी जनपद स्तरीय अधिकारियों को निर्देशित किया कि जनपद के सभी सांसद विधायकगण व अन्य जनप्रतिनिधियों का मोबाइल नंबर अपने फोन में सुरक्षित रखे। इस दौरान समिति के द्वारा विभिन्न लंबित प्रकरणों भूमि विवाद के संबंध में भी सुनवाई करते हुए संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया।
बैठक में जिलाधिकारी अनुज कुमार झा, पुलिस अधीक्षक डॉ अजय पाल शर्मा, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व राम अक्षयवर चौहान, समस्त उपजिलाधिकारी व अन्य संबंधित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Comments

Popular posts from this blog

जौनपुर में चुनावी तापमान बढ़ाने आ रहे है सपा भाजपा और बसपा के ये नेतागण, जाने सभी का कार्यक्रम

अटाला मस्जिद का मुद्दा भी अब पहुंचा न्यायालय की चौखट पर,अटाला माता का मन्दिर बताते हुए परिवाद हुआ दाखिल

मछलीशहर (सु) लोकसभा में सवर्ण मतदाताओ की नाराजगी भाजपा के लिए बनी बड़ी समस्या,क्या होगा परिणाम?