सड़क चौड़ीकरण के लिए जानिए कौन कौन से मन्दिर टूटने के कगार पर ,क्या है लोक निर्माण विभाग की योजना


जनपद वाराणसी में अब सड़क चौड़ीकरण में बाधा बने काली माता मंदिर और त्रिदेव मंदिर को चुनाव बाद स्थानांतरित किया जाएगा। दूसरे स्थान पर दोनों नए मंदिर बनकर तैयार हो गए हैं। लोक निर्माण विभाग को निर्माणाधीन मंदिर के शेष काम को एक सप्ताह के अंदर पूरा करने का निर्देश दिया गया है। चुनाव के चलते पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम ने शट डाउन देना बंद कर दिया है जिससे बिजली के खंभे हटाने का काम बंद पड़ा है।
गाजीपुर से संदहा तक फोरलेन सड़क बनकर तैयार हो गई है। उसके आगे संदहा से कचहरी तक फोरलेन सड़क बनाने का काम तेजी से चल रहा है। कचहरी से संदहा तक कुल 23 मंदिर हैं। इन मंदिरों को एक-एक कर दूसरे स्थान पर स्थानांतरित किया जा रहा है। इस मार्ग पर काली माता मंदिर और पहड़िया चौराहे पर त्रिदेव मंदिर के चलते अक्सर जाम की स्थिति बनी रहती है।
लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों का कहना है कि 10 से 15 जून के बीच स्थानीय लोगों के सहयोग से मंदिर का प्राण-प्रतिष्ठा किया जाएगा।साथ ही श्रद्धालुओं को दर्शन-पूजन करने में परेशानी होती थी। लोक निर्माण विभाग ने स्थानीय लोगों के सुझाव पर काली माता मंदिर को 100 मीटर दूर पहड़िया चौराहे से आने वाले मार्ग के बाएं तरफ तथा पहड़िया चौराहे पर त्रिदेव मंदिर को 100 मीटर दूर पोखरे पर स्थानांतरित किया जाएगा, यहां का मंदिर बनकर तैयार हो गया है। नए काली माता मंदिर पर पत्थर लगाने का काम तेजी से चल रहा है।

Comments

Popular posts from this blog

सपा के पूर्व जिलाध्यक्ष ने खुद को गोली मार कर की आत्महत्या, घर में मच गया कोहराम कार्यकर्ता हैरान

जानिए जौनपुर की दोनो लोकसभा क्षेत्र से भाजपा का सूपड़ा साफ होने के लिए जिम्मेदार कौन थे

भीषण दुर्घटना एक परिवार के आठ सदस्यो की दर्दनाक मौत, पुलिस ने किया विधिक कार्यवाई, इलाके में कोहराम