चक्रवाती तूफान का जबरदस्त आसर दिखा पूरे पूर्वांचल में



     जौनपुर। चक्रवाती तूफान निसर्ग का असर जनपद सहित पूरे पूर्वांचल में साफ तौर पर दिखायी दिया। बृहस्पति वार दिन से ही  आसमान में बादल छाए रहे और हल्की बूंदाबांदी हुई। लेकिन देर रात से जौनपुर सहित  वाराणसी, आजमगढ़ और विंध्य मंडल के सभी  जिलों में हल्की से तेज बारिश हुई। कई जगह तेज हवाएं भी चलीं। इस दौरान कई कच्चे मकान गिर गए।
जनपद जौनपुर में इस चक्रवात के चलते तमाम क्षेत्रों में अंधेरा छाया रहा बिजली का संकट था कई कच्चे मकान धराशायी हो गये धन की हानि हुई लेकिन जन हांनि की खबर नहीं है। 
मिर्जापुर में पुराने मकान का बारजा गिरने से मलबे में दबकर दो वर्ष की मासूम समेत तीन लोगों की मौत हो गई और चार लोग घायल हो गए। कई जिलों में विद्युत आपूर्ति भी ठप है। वाराणसी में दिन में बूंदाबादी, शाम को नम हवा चलने के बाद रात भर गरज-चमक के साथ झमाझम बारिश हुई। इससे उमस से राहत  मिली। उधर मौसम में बदलाव की वजह से ही 24 घंटे में अधिकतम तापमान भी छह डिग्री कम होकर 36 से 29. 6 तक पहुंच गया है।  मौसम वैज्ञानिक की माने तो अरब सागर से उठे चक्रवाती तूफान निसर्ग की वजह से मौसम में बदलाव हुआ है।
बताया कि दक्षिणी पश्चिमी नम हवाओ का दबाव अभी बना है। इस वजह से शुक्रवार को भी वाराणसी समेत आसपास के जिलों में आंधी और हल्की से तेज बारिश आने की संभावना है। 
 भदोही में रात भर बारिश हुई जिससे निचले इलाकों में जलभराव हो गया है। आज दिन में  रिमझिम बारिश होती रही । बलिया में रात 12:00 बजे से शुरू हुई झमाझम बारिश शाम  तक जारी रही । पूरी रात बिजली कड़कती रही। इस बारिश से किसानों के चेहरे खिल गए हैं और वे धान की बेहन लगाने की तैयारी में जुट गए हैं। गाजीपुर में आधी रात से शुरू हुई बरसात सुबह तक जारी रही।
बारिश से हरी सब्जी की खेती को नुकसान पहुंचा है। जौनपुर में रात 9 बजे से ही लगातार बारिश का सिलसिला जारी रहा। शहर समेत ग्रामीण क्षेत्रों की बिजली व्यवस्था ध्वस्त है। ब्रेक डाउन के कारण आधे शहर में भोर से ही बिजली बंद है। धान की नर्सरी डालने में जुटे किसानों के लिए बारिश काफी मुफीद साबित हुई है।
आजमगढ़ में रात में 11 बजे के लगभग तीन-चार घंटे बारिश हुई है। अभी तक बूंदाबांदी हो रही है। मऊ में भी रात 12 बजे के बाद शुरू हुई बारिश अभी जारी है। बारिश से स्टेडियम के ग्राउंड में पानी भर गया। चंदौली में भी तेज हवा संग बारिश से नगर सहित कई इलाकों में पानी भर गया। कई इलाकों में बिजली नहीं आने से लोग परेशान हैं।



Comments

Post a Comment

Popular posts from this blog

डीएम जौनपुर ने चार उप जिलाधिकारियों का बदला कार्यक्षेत्र जानें किसे कहां मिली नयी तैनाती देखे सूची

पुलिस भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले में जौनपुर की अहम भूमिका एसटीएफ को मिली,जानें कहां से जुड़ा है कनेक्शन

जौनपुर में आधा दर्जन से अधिक थानाध्यक्षो का हुआ तबादला,एसपी ने बदला कार्य क्षेत्र