स्वस्थ सामाजिक परिवेश के निर्माण में अग्रणी भूमिका निभाते हैं साहित्यकार - जगदीश नारायण राय


जौनपुर । विकास खण्ड धर्मापुर स्थित कबीरुद्दीनपुर गांव में पूर्व कैबिनेट मंत्री जगदीश नारायण राय के आवास पर काव्य गोष्ठी का आयोजन किया गया  जिसमें कवियों , शायरों , विद्वतजनों ने कविता, शायरी, कहानी, व चुटकुलों के माध्यम से पारिवारिक व सामाजिक स्तर पर आ रही गिरावट के ऊपर जमकर प्रहार किया। व्यंगों के माध्यम से देश व समाज में व्याप्त कुरीतियों पर भी हमला बोला गया । डा. पी सी विश्वकर्मा  प्रेम जौनपुरी  ने आदमी को चाहिए कि वो हौसला पैदा करे ,मौत के आने का रास्ता देखा करे  सुनाकर वाहवाही लूटी तो अनिल उपाध्याय ने पारिवारिक रिश्तों में आई गिरावट पर अपनी रचना सुनाकर लोगों को सोचने पर मजबूर कर दिया । कार्यक्रम को संबोधित करते हुए आयोजक पूर्व मंत्री जगदीश नारायण राय ने कहा कि साहित्य व साहित्यकारों ने सदैव देश व समाज को दिशा देने का काम किया है  तथा  स्वस्थ सामाजिक परिवेश  के निर्माण में सदैव अग्रणी भूमिका निभाने का काम किया है। इस मौके पर नगरपालिका के पूर्व अध्यक्ष दिनेश टंडन, अवकाश प्राप्त प्राचार्य गांधी स्मारक त्रिवेणी पीजी कॉलेज बरदह आजमगढ़ डा. देवरूप तिवारी, विक्रमादित्य मिश्र बलिया वाले पंडित जी, पत्रकार विद्याधर राय विद्यार्थी , नीरज मिश्रा मस्तू, गुलाब राय, राकेश यादव, अवधेश यादव, दिनेश यादव फौजी , धर्मेद्र यादव, महेश्वरी श्रीवास्तव आदि उपस्थिति रहे ।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

अब से राशन मिलना बंद, पूरे 4 महीने के लिए लगी राशन पर रोक, जानें क्या है कारण

जौनपुर में शादी का झांसा देकर किशोरी से दुष्कर्म, मुकदमा दर्ज पुलिस जांच में जुटी

पूर्वांचल के रास्ते यूपी में जानें कब प्रवेश कर सकता है मानसून, भीषण गर्मी से मिलेगी निजात