हाईवे पर बनने वाले सामुदायिक शौचालयों पास बनने वाली दुकानें महिला समूहों को होगी आवंटित


जौनपुर: हाईवे पर मुसाफिरों के लिए बनाए जा रहे सामुदायिक शौचालयों पर समूह की महिलाओं की दुकानें भी सजेंगी। पहली कड़ी में 17 दुकानों को समूहों को दिए जाने का निर्णय लिया गया है। यह तैयारी काफी पहले से की गई थी, जिसे अमलीजामा पहनाया जा रहा है। अभी तक प्राप्त कई आवेदनों में 17 का चयन किया गया है। जिनके आवंटन की प्रक्रिया जल्द पूर्ण की जाएगी। कवायद तेज कर दी गई है। इस पहल से न सिर्फ गांव की महिलाओं को मजबूती मिलेगी, बल्कि उनकी आर्थिक स्थिति भी सुधरेगी।
हाईवे पर मुसाफिरों का सफर आसान बनाने के लिए 45 सामुदायिक शौचालयों का निर्माण कराया जाना है। प्रत्येक शौचालय पर तीन लाख रुपये खर्च होने हैं। इतना ही नहीं, शौचालय के किनारे सुंदर पार्क बनाया जाना है, जिससे दूर का सफर तय करने वाले लोग फुरसत के कुछ पल बिता सकें। पंचायत विभाग की ओर से वाराणसी-सुल्तानपुर हाईवे पर जिले की सीमा में स्थान तो चिन्हित कर लिया गया है। हालांकि सात स्थानों पर विवाद की वजह से कार्य शुरू नहीं हो सका है। बनाए जा रहे 38 सामुदायिक शौचालयों में अभी कुछ अपूर्ण हैं। ऐसे में निर्माण पूर्ण होने के बाद दुकानों का आवंटन शुरू कराया जाएगा। पूर्व जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह ने हाईवे किनारे शौचालय निर्माण की योजना बनाई थी। उनके ही प्रयास से यह प्रस्ताव स्वीकृत भी हुआ। एनआरएलएम उपायुक्त ओपी यादव ने बताया कि हाईवे किनारे शौचालयों के एक हिस्से में बनाई जा रही 17 दुकानों को समूह की महिलाओं को दिया जाएगा। निर्माण पूर्ण होने के बाद आवंटन की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

चाचा भतीजी में हुआ प्यार, फिर फरार, पकड़े जाने पर हुई दैहिक समीक्षा, अब शादी की तैयारी

58 हजार ग्राम प्रधानो को लेकर योगी सरकार ने लिया अब यह फैसला

जौनपुर में तैनात दुष्कर्म के आरोपी पुलिस इन्सपेक्टर की सेवा हुई समाप्त, जानें क्या है घटना क्रम