आखिर एसओजी टीम ने निरपराध व्यक्ति सहित उसके मां को क्यों पीटा, क्या पीड़ित के साथ न्याय होगा


जौनपुर। मड़ियाहूं कोतवाली क्षेत्र के गांव भवानीपुर मिश्रान में एसओजी टीम तस्कर की तलाशी के दौरान एक निर्दोष को पीटा बचाव करने गयी महिला को इतना मारा कि वह बेहोश हो गयी। ग्रामीण बदमाश समझकर दौड़ाये तो एसओजी पुलिस भागी ।खबर है कि पुलिस किसी तस्कर को खोज रही थी। आरोप है कि वह गलत घर पर पहुंची थी और घर पर मौजूद युवक और उसकी मां की जमकर पिटाई कर दी,जिससे वह बेहोश हो गई। ऐसे में उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र इलाज के लिए ले लाना पड़ा। वहीं, एसओजी टीम पिटाई करने की बात से इनकार कर रही है।
भवानीपुर मिश्रान गांव निवासी आशीष यादव के घर बुधवार की दोपहर मड़ियाहूं कोतवाली के दो पुलिस कर्मी पहुंचे। आशीष यादव ने पुलिसकर्मी को घर पर बैठा कर चाय पीने के लिए कहा, तभी उसे अचानक तीन बोलोरो भरकर सादे ड्रेस कई लोग पहुंचे। आरोप है कि आशीष यादव की पिटाई करने लगे। आरोप है कि मां गायत्री देवी शोर शराबा सुनकर बचाने पहुंची तो लोग लातघुसों से आशीष की पिटाई कर रहे थे। गायत्री देवी छुड़ाने लगी तो उनकी भी जमकर पिटाई कर दिए। पिटाई से मौके पर ही गायत्री देवी बेहोश हो गई। उसके बाद गांव वालों ने बदमाश कहते हुए बोलोरो सवार लोगों को ईट पत्थर लेकर दौड़ा लिए। जिसके बाद सभी बोलोरो सवार वहां से भागने लगे। तब सादे ड्रेस में मौजूद पुलिसकर्मी ने बताया कि सभी लोग एसओजी के हैं और एक मामले में आरोपी की तलाश में आए हुए हैं। इसके बाद ग्रामीण शांत हुए। उसके बाद गांव के एक युवक को गिरफ्तार कर साथ ले गई। परिजनों ने गायत्री देवी को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मड़ियाहूं में भर्ती कराया। मामले में बताया जा रहा है कि एसओजी के लोग बोलेरो चोरी में दूसरे युवक की तलाश थी गलतफहमी में आशीष यादव के घर पहुंच गई थी। आशीष यादव की पिटाई करने लगे बाद में जब ग्रामीणों की घेराबंदी हुई तो एसओजी के लोग भागकर विकास पटेल को गिरफ्तार कर अपने साथ ले गई। हलांकि इस संबंध में एसओजी प्रभारी आदेश त्यागी  मारपीट की घटना से इनकार कर रहे है। आरोप लगाने वाले झूठ बोल रहे हैं। टीम गई जरूर थी, लेकिन पहुंचते ही हम जिसे खोज रहे थे वो मिल गया और उसे लेकर हमलोग चले गये 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जौनपुर में आज फिर तड़तड़ायी गोलियां एक की मौत दूसरा घायल पहुंचा अस्पताल,छानबीन मे जुटी पुलिस

बिजली कर्मियों हड़ताल को देख, वितरण व्यवस्था संचालन हेतु नोडल और सेक्टर अधिकारी नियुक्त

जानिए मुर्गा काटने के दुकान से कैसे मिला गुड्डू की लाश,पुलिस कर रही है जांच