भारत के इतिहास में पहली बार पंचायत प्रतिनिधियों को वर्चुअल शपथ की तैयारी



प्रदेश के नव निर्वाचित ग्राम प्रधानों व ग्राम पंचायत सदस्यों को शपथ दिलाये जाने का प्रस्ताव मुख्यमंत्री के पास भेजा गया है 
प्रबल संभावना है कि इसी सप्ताह शपथ दिलाई जा सकती है। शपथ समारोह वर्चुअल तरीके से आयोजित कराने का प्रस्ताव है। अगर ऐसा हुआ तो स्वतंत्र भारत के इतिहास में ऐसा पहली बार होगा।
प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की मतगणना संपन्न होने के बाद 5 मई को आदर्श आचार संहिता समाप्त हुई थी। नवनिर्वाचित ग्राम प्रधान व ग्राम पंचायत सदस्य तभी से शपथ व पहली बैठक का इंतजार कर रहे हैं। 
शासन के पंचायतीराज विभाग ने पिछले दिनों 12 से 14 मई के बीच शपथ व 15 मई को पहली बैठक का प्रस्ताव शासन को भेजा था, जिसे कोविड संक्रमण के मद्देनजर रोक दिया गया था। अब विभाग ने नये सिरे से शपथ व पहली बैठक का प्रस्ताव मुख्यमंत्री को भेज दिया है। शपथ व पहली बैठक की तिथि पर निर्णय मुख्यमंत्री करेंगे। पंचायतीराज मंत्री भूपेंद्र सिंह चौधरी का कहना है कि प्रस्ताव मुख्यमंत्री को भेज दिया गया है।
जिला पंचायत अध्यक्ष व ब्लॉक प्रमुख के चुनाव का प्रस्ताव भी मुख्यमंत्री को भेजा गया है। इस पर भी जल्द निर्णय की संभावना है। ये चुनाव इस महीने के आखिरी सप्ताह या अगले महीने जून में कराए जाने की उम्मीद है।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

ड्रेस के लिए बच्चे को पीटने वाला प्रिन्सिपल अब पहुंचा सलाखों के पीछे

14 और 15 दिसम्बर 21को जौनपुर रहेंगे सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव,जानें क्या है कार्यक्रम

ओमिक्रॉन से बढ़ी दहशत,पूर्वांचल के जनपदो में भी मिलने लगे संक्रमित मरीज,प्रशासनिक तैयारी तेजम