किसानो के मसीहा के रूप में आज भी जाने जाते है चौधरी चरण सिंह-लाल बहादुर यादव



जौनपुर। किसान दिवस के अवसर पर सपाइयों ने सपा कार्यालय पर किसान को अंगवस्त्र भेट कर सम्मानित करते हुए पूर्व प्रधानमंत्री किसान नेता स्व चौधरी चरण सिंह की जयंती को धूमधाम के साथ मनाया। कार्यक्रम की अध्यक्षता निवर्तमान जिलाध्यक्ष 
 डाॅ अवधनाथ पाल ने किया। पूर्व विधायक लालबहादुर यादव ने जंयती समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री स्व चौधरी चरण सिंह देश के सबसे बड़े किसान नेता थे वे विभिन्न पदों पर रहते हुए उत्तर प्रदेश की सेवा की एवं उनकी ख्याति एक ऐसे कड़क नेता के रूप में हो गई थी जो प्रशासन में अक्षमता एवं भ्रष्टाचार को बिल्कुल बर्दाश्त नहीं करते थे। प्रतिभा शाली एवं व्यवहारवादी चरण सिंह अपने वाकपटुता एवं दृढ़ विश्वास के लिए जाने जाते थे। किसानों के लिए भूमि सुधार का पूरा श्रेय उन्हें जाता है ग्रामीण देनदारों को राहत प्रदान करने वाले विभागीय स्वर्ण ऋणमुक्ति विधेयक 1939 को तैयार करने एवं इसे अंतिम देने में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका थी उनके द्वारा की गई पहल का ही परिणाम था कि उत्तर प्रदेश में मंत्रियों के वेतन एवं उन्हें मिलने वाली अन्य लाभ काफी कम कर दिया गया था। मुख्यमंत्री के रूप में जोत अधिनियम 1960 को लाने में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका थी यह अधिनियम जमीन रखने की अधिकतम सीमा को कम करने के उद्देश्य से लाया गया था ताकि राज्य भर में इसे एक सम्मान बनाया जा सके। 
अध्यक्षता करते हुए डा०अवधनाथ पाल ने कहा देश में कुछ ही राजनेता ऐसे हुए जिन्होंने लोगों के बीच रहकर अपना नाम किया वहीं किसान नेता के रूप में चौधरी चरण सिंह का नाम सर्वोच्च स्थान लिया जाता हैं जिन्होंने किसानों के हितों में सबसे अधिक काम किया। इस अवसर पर सम्मानित होने वाले किसान अच्छेलाल निषाद, मोख्खनलाल गौतम, सोमनाथ प्रजापति,राजदेव राजभर, मित्तल सरोज, श्याम बहादुर यादव प्रमुख रहें।जंयती के अवसर पर मुख्य रूप से राजेंद्र टाइगर हीरालाल विश्वकर्मा  राहुल त्रिपाठी पंकज मिश्रा रुखसार अहमद राजन यादव चंद्रशेखर यादव राम मूर्ति सरोज शिवजीत यादव अनिल दुबे आरबी यादव सोनी यादव सोनी सेठ सीमा खान अन्नपूर्णा देववंशी सबीना बेगम अखिलेश यादव अजय प्रजापति आशा राम यादव ऋषि यादव लक्ष्मी शंकर यादव,आदि संचालन निवर्तमान जिला महाचिव अखण्ड प्रताप यादव ने किया।

Comments

Popular posts from this blog

डीएम जौनपुर ने चार उप जिलाधिकारियों का बदला कार्यक्षेत्र जानें किसे कहां मिली नयी तैनाती देखे सूची

पुलिस भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले में जौनपुर की अहम भूमिका एसटीएफ को मिली,जानें कहां से जुड़ा है कनेक्शन

जौनपुर में आधा दर्जन से अधिक थानाध्यक्षो का हुआ तबादला,एसपी ने बदला कार्य क्षेत्र