प्रदेश के 04 शहरों में आगरा, लखनऊ, वाराणसी तथा ग्रेटर नोएडा में जी-20 की विभिन्न विषयों पर होगी 11 बैठकें - एके शर्मा


लखनऊ। प्रदेश के नगर विकास एवं ऊर्जा मंत्री  ए0के0 शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री जी के कुशल नेतृत्व में भारत विश्व की 85 प्रतिशत अर्थव्यवस्था का प्रतिनिधित्व करने वाले समृद्ध देशों के संगठन जी-20 की इस वर्ष 01 दिसम्बर, 2022 से एक वर्ष की अध्यक्षता कर रहा है। इस दौरान पूरे देश के विभिन्न शहरों में इन देशों के साथ 255 से अधिक बैठकों का आयोजन किया जायेगा। प्रदेश के भी 04 शहरों में आगरा, लखनऊ, वाराणसी तथा ग्रेटर नोएडा में जी-20 की विभिन्न विषयों पर 11 बैठकें आयोजित की जायेगीं। जिसकी शुरूआत अगले माह 11-12 फरवरी को आगरा तथा 13-15 फरवरी को लखनऊ से होगी। उन्होंने कहा कि यह हमारे लिए गर्व करने का समय है कि हमारा प्रदेश विश्व के समृद्ध देशों से आये विदेशी मेहमानों का स्वागत ‘अतिथि देवो भवः’ की अपनी मूल संस्कृति की भावना से करने के लिए व्यापक तैयारी कर रहा है। इसके लिए शहरों का कायाकल्प कर सजाया जा रहा है और वहां की व्यवस्था को वैश्विक मापदण्डों के अनुरूप बनाया जा रहा है। यह समय प्रदेश की सांस्कृतिक विविधताओं, विरासतों, ऐतिहासिक व पर्यटक स्थलों/स्मारकों की भव्यता को विश्व समक्ष प्रस्तुत करने का बेहतर अवसर है। इससे प्रदेश की 01 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था को बनाने में भी मदद मिलेगी।
नगर विकास मंत्री श्री ए0के0 शर्मा ने मीडिया सेन्टर, लोकभवन में आज आयोजित प्रेसवार्ता में मीडिया को जी-20 की बैठकों के संबंध में प्रदेश में की जा रही तैयारियों के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि वैश्विक स्तर पर प्रदेश की पहचान बनाने के लिए यहां की नगरीय सुविधाएं भी वैश्विक मापदण्डों की हों। इसके लिए मा0 मुख्यमंत्री जी ने 28 दिसम्बर को स्वयं निर्देश दे चुके हैं। मैं भी स्वयं नगर विकास मंत्री तथा प्रमुख सचिव, नगर विकास के स्तर से लगातार कार्यों की मॉनीटरिंग की जा रही है। स्थानीय स्तर पर भी मण्डलायुक्त, जिलाधिकारी, नगर आयुक्त द्वारा कार्यों का निरीक्षण किया जा रहा है। इन सभी कार्यों में जनभागेदारी भी बढ़ाने का भी प्रयास किया जा रहा है। मा0 प्रधानमंत्री जी एवं मा0 मुख्यमंत्री जी की मंशानुरूप नगरों को गौरवशाली बनाने, इनका शुसोभन, सौन्दर्यीकरण एवं स्वच्छता का वृहद स्तर पर कार्य किया जा रहा है। इसके लिए प्रदेश की सभी 762 निकायों में यूपी जीसिटीज का 100 दिवसीय अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि बैठकों के दौरान प्रदेश में आने वाले विदेशी मेहमान पर्यटन, धार्मिक व व्यावसायिक दृष्टि से प्रदेश में कहीं पर भी जा सकता है। उन्होंने प्रदेश के आमजनमानस से भी नगरों को स्वच्छ एवं सुन्दर बनाकर विदेशी मेहमानों का स्वागत करने की अपील की है।
श्री ए0के0 शर्मा ने कहा कि 10 से 12 फरवरी को लखनऊ में ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट का आयोजन किया जायेगा, जिसमें भी देशी-विदेशी मेहमान आयेंगे। इस दौरान प्रदेश की अर्थव्यवस्था, कृषि तकनीक, डिजिटल इण्डिया, एक जिला एक उत्पाद, इन्फ्रास्ट्रक्चर, बेहतर कानून व्यवस्था को बेहतर तरीके से प्रदर्शित करना है। साथ ही जी-20 की बैठके आयोजित करने वाले शहरों को हवाई अड्डा से मुख्य शहर तक तथा अन्य स्थानों का सौन्दीर्यीकरण, डिजिटल साइनेज, लाइटिंग, पेन्टिंग के बेहतर कार्य कराये जा रहे तथा इन शहरों में एक पार्क व एक सड़क का नाम भी जी-20 पर रखा जायेगा। जी-20 के आयोजनों में जनभागीदारी बढ़ाने के लिए भी 21 जनवरी को चारों शहरों में वाकाथन/मैराथन का आयोजन किया जायेगा, जिसको मा0 मुख्यमंत्री 05 कालिदास मार्ग से जी-20 का झण्डा दिखाकर रवाना करेंगे।
प्रमुख सचिव नगर विकास श्री अमृत अभिजात ने इस दौरान जी-20 की बैठकें आयोजित करने वाले 04 नगरों में किये जा रहे विशेष कार्यों का प्रजेन्टेशन भी प्रस्तुत किया। उन्होंने बताया कि बताया कि शासन जी-20 की बैठकों को लेकर पूरी तरह से गम्भीर है तथा विभिन्न विभागों के माध्यम से बेहतर कार्य किये जा रहे हैं। शिक्षा विभाग स्कूल से लेकर कॉलेज/विश्वविद्यालयों तक में जी-20 के विषयों पर डिवेट/सिम्पोजियम आयोजित कर रहा है। डिजिटल इण्डिया कैम्पेन के माध्यम से मेहमानों की मदद की जायेगी और मा0 प्रधानमंत्री जी के निर्देशानुसार प्रदेश की सांस्कृतिक, आर्थिक एवं धार्मिक विरासत को खूबसूरती के साथ प्रस्तुत किया जायेगा। उन्होंने कहा कि जी-20 की थीम में प्रदेश के विकास कार्यों एवं स्थानीय महत्व के विषयों को प्रदर्शित किया जायेगा। 13 से 15 फरवरी को लखनऊ में होने वाली जी-20 की बैठक में सांस्कृतिक व पर्यटन, धनराशि का डिजिटल स्थानान्तरण, माइन मित्रा, कोविड कन्ट्रोल सेन्टर को प्रदर्शित किया जायेगा तथा यहां के कथक नृत्य व लोकगीतों को भी महत्व दिया जायेगा। खेल विभाग द्वारा खेल व योगा प्रतियोगिताओं का आयोजन करेगा।
श्री अमृत अभिजात ने कहा कि प्रदेश की बेहतर छवि दिखाने के लिए शहरों की साफ-सफाई, हरियाली, लाइटिंग, सुन्दरीकरण पर विशेष ध्यान दिया गया है और इस व्यवस्था को स्थायी बनाने का भी प्रयास किया गया है। मेहमानों को ऐतिहासिक स्थलों इमाबाड़ा, रेजीडेंसी में घुमाने के लिए गाइड भी प्रदान किये जायेंगे। प्रदेश के 75 जनपदों में योगा 75 योगा टीमें, म्युजिक एवं क्रॉफ्ट कम्पटीशन की तैयारी की जा रही है। विजेताओं को जी-20 एवार्ड दिया जायेगा।
खेल निदेशक, श्री आर0पी0 सिंह ने बताया कि जी-20 की बैठकें आयोजित करने प्रदेश के चारों नगरों में वाकाथन/मिनी मैराथन का आयोजन किया जायेगा। लखनऊ में आयोजित होने वाली मिनी मैराथन/वाकाथन को 21 जनवरी को सुबह 09ः00 बजे मा0 मुख्यमंत्री जी झण्डा दिखाकर के0डी0 सिंह बाबू स्टेडियम के लिए रवाना करेंगे। इसमें विजेता प्रतिभागियों को 80 हजार रुपये तक का पुरस्कार वितरित किया जायेगा, जिसमें 21 हजार का प्रथम, 11 हजार का द्वितीय, 05 हजार तृतीय तथा 3 हजार रुपये का सांत्वना पुरस्कार महिला एवं पुरुष प्रतिभागी को अलग-अलग दिया जायेगा। उन्होंने बताया कि भविष्य में प्रदेश की ओर से आयोजित की जाने वाली सभी राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय खेल-कूद प्रतियोगिताओं को जी-20 के नाम से आयोजित की करायी जायेंगी।
प्रेसवार्ता में सचिव नगर विकास रंजन कुमार, मण्डलायुक्त श्रीमती रोशन जैकब, निदेशक सूचना शिशिर, विशेष सचिव डी0पी0 सिंह मौजूद थे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मेदांता में इलाज करा रहे इस आईएएस अधिकारी का हुआ निधन

जौनपुर में फिर तड़तड़ायी गोलियां एक युवक गम्भीर रूप से घायल बदमाश फरार, पुलिस अंधेरे में चला रही छानबीन की तीर

थाना चन्दवक की वसूली लिस्ट वायरल होने पर एक बार फिर सुर्खियों में पुलिस जांच शुरू