अखिलेश यादव का तंज जनता को गुमराह कर रही है सरकार, भंग करे पेट्रोलियम मंत्रालय


देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतें लगातार बढ़ती जा रही हैं. ज्यादातर राज्यों में तेल की कीमतें 100 रुपये के पार पहुंच गई हैं. कई राज्यों में तो एक लीटर पेट्रोल 120 रुपये से ज्यादा की कीमत पर बिक रहा है. इस वजह से हर दिन जनता की जेब ढीली हो रही है. इसे लेकर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बीजेपी सरकार पर निशान साधा है.
अखिलेश यादव ने ट्विटर पर लिखा, भाजपा सरकार जिस तरह पेट्रोल-डीज़ल के दाम लगातार बढ़ा रही है, उसे देखकर तो ये लगता है कि वो जनता को ‘35’ का पहाड़ा सिखा रही है. अगर सरकार का पेट्रोल-डीज़ल पर कोई नियंत्रण है ही नहीं तो फिर पेट्रोलियम मंत्रालय को भंग कर देना चाहिए.
देश की सबसे बड़े राज्य में आज पेट्रोल के दाम में 43 पैसे की बढ़ोत्तरी हुई है, वहीं डीजल के दाम में 44 पैसों की बढ़ोत्तरी हुई है. यूपी में पेट्रोल के आज 105.27 रुपये प्रति लीटर से बढ़कर 105.70 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया है. वहीं डीजल 97.50 रुपये प्रति लीटर से बढ़कर 97.94 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया.
उत्तर प्रदेश में राज्य सरकार को पेट्रोल और डीजल के टैक्स से करोड़ों रुपये का फायदा मिलता है. यहां राज्य सरकार पेट्रोल पर 18.74 रुपये प्रति लीटर का टैक्स वसूलसी है. वहीं यहां राज्य सरकार डीजल पर 12.44 रुपये प्रति लीटर का वैट टैक्स लेती है. पेट्रोल और डीजल से केंद्र और राज्य दोनों सरकारों को मोटा मुनाफा होता है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

चाचा भतीजी में हुआ प्यार, फिर फरार, पकड़े जाने पर हुई दैहिक समीक्षा, अब शादी की तैयारी

58 हजार ग्राम प्रधानो को लेकर योगी सरकार ने लिया अब यह फैसला

जौनपुर में तैनात दुष्कर्म के आरोपी पुलिस इन्सपेक्टर की सेवा हुई समाप्त, जानें क्या है घटना क्रम